आज ET में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार Google अब भारतीय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Sharechat का अधिग्रहण करने पर विचार कर रहा है।

जी हाँ! दरसल रिपोर्ट की मानें तो सर्च दिग्गज़ Google क़रीब $1 बिलियन की वैल्यूएशन पर भारत में लोकप्रिय स्थानीय भाषाओं पर आधारित सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म ShareChat को जल्द ख़रीद सकता है।

दरसल लोगों के साथ ही साथ निवेशकों के बीच भी ये भारतीय सोशल मीडिया प्लेफ़ॉर्म बेहद लोकप्रिय हो रहा है। ऐसा इसलिए भी कहा जाता रहा है क्योंकि इसमें अधिकतम हिस्सेदारी हासिल करने की रेस में कुछ समय पहले Microsoft जैसे कई दिग्गज़ नाम सामने आ चुके हैं।

आपको बता दें इस स्टार्टअप ने पिछली बार $650 मिलियन की वैल्यूएशन पर प्री-सीरीज़-E राउंड में $40 मिलियन जुटाए थे।

इसी के साथ ही कुल $264 मिलियन का निवेश हासिल कर चुके Sharechat में अब तक Twitter, SAIF Partners (Elevation Capital), Lightspeed Ventures जैसे नामी निवेशक निवेश कर चुके हैं।

Google की दिलचस्पी इसलिए भी बढ़ी हो सकती है क्योंकि ShareChat बीते कुछ समय से भारतीय लोगों के बीच अपनी अपनी स्थानीय भाषा में एक मज़बूत पकड़ बना चुका है।

और Google यह साफ़ तौर पर जानता है कि आने वाले समय में भारत जैसे देशों में स्थानीय भाषाओं में इंटरनेट का प्रसार होने की संभावनाएँ बेहद पुख़्ता हैं। और ऐसे में भारत जैसे बड़े बाज़ार में 15 से अधिक भारतीय भाषाओं में चल रहे ShareChat में हिस्सेदारी रखना Google के लिए फ़ायदेमंद हो सकता है।

आपको बता दें Google ने जुलाई में घोषणा की थी कि वह भारत डिजिटलीकरण के लिए नया फ़ंड बनायाएगा जिसमें Google भारत में $ 10 बिलियन का निवेश करेगा। और इसी कड़ी में सबसे पहले Google ने Reliance Jio में $4.5 बिलियन का निवेश किया था।

इस बीच देखने वाली बात यह है कि ShareChat ने सिलिकॉन वैली में एक रिसर्च एंड डेवलपमेंट लैब भी स्थापित की थी जिसे ShareChat Labs के नाम से जाना जाता है।

इतना ही नहीं बल्कि सिलिकॉन वैली के लैब में ShareChat ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और इसके हाल ही में लॉन्च किए गए वीडियो प्लेटफॉर्म Moj के लिए आर्टिफ़िशल इंटेलिजेन्स और मशीन लर्निंग जैसी सुविधाओं को लेकर भी काम शुरू किया है।

आपको बता दें ShareChat के 130 मिलियन से अधिक मासिक उपयोगकर्ता होने का दावा किया जाता है, वहीं इसके Moj प्लेटफ़ॉर्म पर  80 मिलियन से अधिक मासिक उपयोगकर्ता होने का भी दावा कंपनी करती है।