इस वक़्त दुनिया भर की निगाह हर उस कंपनी की ओर है जो COVID-19 की वैक्सीन बनाने की दिशा में फ़ेज़ 2 या 3 के ट्रायल कर रही है। और इन कंपनियों में से एक है Moderna जो फ़िलहाल वैक्सीन के तीसरे फ़ेज़ का ट्रायल कर रही है।

दिलचस्प यह है कि हाल ही में Moderna ने ट्रायल अपनी के शुरुआती नतीजों के आधार पर अपनी mRNA आधारित वैक्सीन को 94.5% तक प्रभावी बताया गया है।

आपको बता दें Moderna के अनुसार इसकी COVID-19 वैक्सीन mRNA-1273 के फ़ेज़ 3 ट्रायल, जो इस साल जुलाई में शुरू हुआ था, में सक्रिय COVID-19 मामलों वाले 95 प्रतिभागियों ने भाग लिया था।

दरसल 95 लोगों में से 90 का Placebo Group के साथ परीक्षण किया गया, जबकि, केवल 5 को Moderna की mRNA-1273 वैक्सीन ग्रूप के साथ टेस्ट किया गया। इसी के परिणामों के आधार पर वैक्सीन को 94.5% प्रभावशाली बताया जा रहा है।

आपको बता दें mRNA को National Institutes of Health (NIH) द्वारा नियुक्त Data Safety Monitoring Board (DSMB) के साथ मिलकर Moderna ने विकसित किया जा रहा है।

इस बीच कंपनी का कहना है;

“फ़ेज़-3 टेस्टिंग के शुरुआती परिणामों के तहत वैक्सीन की दूसरी खुराक के बाद दो सप्ताह से शुरू होने वाले नतीजे पेश किए गए हैं। वहीं इसको लेकर DSMB द्वारा Phase 3 COVE अध्ययन के डेटा को रिव्यू किया गया है, जिसने अपनी रिपोर्ट में सुरक्षा संबंधी कोई चिंता व्यक्त नहीं की है।”

असल में कैम्ब्रिज-आधारित ये बायोटेक कंपनी mRNA-1273 वैक्सीन के इस सकारात्मक परिणाम के आधार पर, इस वैक्सीन के लिए Emergency Use Authorization (EUA) के तहत अमेरिकी Food and Drug Administration (FDA) से मंज़ूरी प्राप्त करना चाहती है।

इस बीच आपको बता दें यह EUA आधारित मंज़ूरी सम्भवतः 151 COVID मामलों का विश्लेषण करने और 2 महीने से अधिक तक उनकी निगरानी करने के आधार पर ही मिलती है। लेकिन इस बीच लगता है इस कंपनी ने वैश्विक नियामक एजेंसियों को आवेदन जमा करने की योजना बनाई है। जिससे अत्यधिक आपातकालीन स्थितियों में इस वैक्सीन को इस्तेमाल करने की इजाज़त मिल सके।

इस बीच Moderna के सीईओ, Stéphane Bancel ने कहा,

“यह हमारे COVID-19 वैक्सीन की दिशा में एक अहम पड़ाव है। जनवरी की शुरुआत से हमने दुनिया भर में अधिक से अधिक लोगों की जान बचाने के लिए वैक्सीन के निर्माण का लक्ष्य रखा है। और हम जानते हैं कि इसको लेकर एक एक दिन भी बेहद अहम है। हमारे फ़ेज़ 3 के अध्ययन के अनुसार कुछ सकारात्मक नतीजे सामने आए हैं, जिससे हम इतना ज़रूर कह सकतें हैं कि हमारी वैक्सीन COVID-19 बीमारी के लिए कारगर है।”

इस बीच ख़ास यह है कि U.S. Centers for Disease Control and Prevention (CDC), Operation Warp Speed, McKesson (अमेरिकी सरकार द्वारा नियुक्त वैक्सीन वितरक) आदि mRNA-1273 वैक्सीन को वितरित करने की तैयारियाँ भी शुरू कर दी हैं।

कंपनी ने 2020 के अंत तक mRNA-1273 की 20 मिलियन खुराक तैयार करने का लक्ष्य रखा है और 2021 में वैश्विक स्तर पर 500 मिलियन से 1 बिलियन तक की खुराक के उत्पादन करने का दावा कर रही है।