भारत सरकार लगातार देश में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) को COVID-19 की मार के चलते लगे आर्थिक झटके से उबारने की कोशिशों की सराहना कर रही है। और अब इन्हीं कोशिशों में एक और नाम जुड़ा है, Paytm का।

जी हाँ! Paytm ने अब भारत में MSMEs को बढ़ावा देने के लिए मार्च 2021 तक क़रीब ₹1000 करोड़ का लोन बाँटने संबंधी अपनी योजनाओं की घोषणा की है। इसके तहत MSMEs के ​​मालिक बहुत कम ब्याज दरों पर 5 लाख तक के Collateral-Free लोन प्राप्त कर सकेंगें।

इतना ही नहीं बल्कि ये लोन ‘दैनिक पुनर्भुगतान’ जैसी आसान विकल्प के साथ भी प्रदान किए जाएँगें। इसके लिए प्लेटफ़ॉर्म ने कई ऋणदाताओं और NBFC के साथ Collateral-Free लोन देने को लेकर साझेदारी भी की हैं।

इसको लेकर Paytm Lending के सीईओ भावेश गुप्ता ने कहा;

“हमारे Collateral-Free लोन के साथ हम किराना स्टोर और अन्य छोटे व्यवसाय मालिकों की मदद करने की कोशिश कर रहे हैं, जो पारंपरिक बैंकिंग क्षेत्र से उचित लाभ नहीं पा रहें हैं और न ही आसानी से लोन तक पहुँच। इस दिशा में आगे बढ़ते हुए हम विशेष रूप से EDC व्यापारियों पर ध्यान केंद्रित करेंगे और उनके EDC लेनदेन के आधार पर उन्हें अधिकतम लोन देने की कोशिश करेंगें।”

दरसल Paytm लगातार दावा करती रही है कि कंपनी ने हमेशा से देश में MSMEs के विकास में निवेश किया है। भारत में सबसे बड़ी डिजिटल भुगतान सेवाओं में से एक होने के चलते Paytm भारत में लाखों छोटे और मध्यम व्यापारियों को ये सहूलियतें प्रदान करता है।

Paytm के अनुसार कंपनी के ऑल-इन-वन QR Code को देश भर में 17 मिलियन से अधिक व्यापारियों ने अपनाया है, जो उन्हें न सिर्फ़ Paytm Wallet बल्कि बैंक खातों, UPI और Rupay Card के माध्यम से लेनदेन की सहूलियत प्रदान करता है।

इसके साथ ही कंपनी द्वारा विकसित ऑल-इन-वन Android PoS डिवाइस, जो Paytm Wallet, UPI और डेबिट व क्रेडिट कार्ड सहित विभिन्न भुगतान मोड का समर्थन करता है, देश में 2 लाख से अधिक MSMEs तक पहुंचने में कामयाब रही है।

वहीं अगर बात इसके Paytm for Business ऐप की करें तो यह भी छोटे बड़े व्यवसायों को लेनदेन का ट्रैक रखने से लेकर अन्य कई सहूलियतें प्रदान कर रही है। कंपनी दावा है कि यह व्यापारियों को सभी प्रकार के भुगतान के तरीकों प्रदान करके 50% से अधिक बाजार हिस्सेदारी के साथ ऑफ़लाइन भुगतान (P2M) सेगमेंट का नेतृत्व करता है।

इस बीच फ़िलहाल यह फिनटेक दिग्गज कंपनी अपने मर्चेंट लेंडिंग प्रोग्राम के तहत अपने Paytm For Business ऐप के ज़रिए Collateral Free लोन देने का काम करती है। इसके तहत व्यापारियों के दैनिक लेनदेन को देखते हुए एक एल्गोरिथम की मदद से लोन देने का आँकलन किया जाता है। Paytm की मानें तो इसने पिछले साल एक लाख से अधिक मर्चेंट पार्टनर्स को ₹550 करोड़ का लोन बाँटा है।

इस बीच अपने ऐलान को लेकर कंपनी ने कहा,

“Paytm उन लोगों के लिए तुरंत लोन प्रदान करता है, जो Collateral या क्रेडिट स्कोर की कमी के चलते पारंपरिक बैंकिंग सेवाओं में लोन हासिल नहीं कर पाते। हाल ही में कंपनी ने Next Generation Credit Cards और ‘क्रेडिट टू कस्टमर्स’ के लिए पर्सनल लोन लॉन्च किए हैं।”

“Paytm से लोन लेने की प्रक्रिया पूरी तरह से डिजिटल है और आप आवेदन जमा करने से लेकर लोन मिलने तक की प्रक्रिया को डिजिटल तरीक़े से ही ट्रैक कर सकतें हैं।”