भारतीय रिटेल बाज़ार में Reliance Retail Ventures Limited काफ़ी तेज़ी से साथ अपने पाँव पसरते नज़र आ रहा है, और इसकी सीधी बड़ी वजह है कंपनी को निवेशकों का मिलता व्यापक समर्थन!

और इसी कड़ी में अब यूएई के पब्लिक इन्वेस्टमेंट फ़ंड (PIF) ने RRVL में $1.3 बिलियन के निवेश का ऐलान किया है। ज़ाहिर है KKR, GIC, TPG, General Atlantic, Mubadala, Silver Lake जैसी बड़ी कंपनियों से पहले ही भारी निवेश अर्जित कर चुके RRVL के लिए ये एक और अहम निवेश है, जो शायद सही वक़्त पर मिलता नज़र आ रहा है।

आपको बता दें इस निवेश के ज़रिए PIF ने RRVL में 2.04% इक्विटी हिस्सेदारी हासिल की है। और इतना ही नहीं बल्कि यह निवेश भारत की इस सबसे बड़ी रिटेल फर्म की वैल्यूएशन को क़रीब $62.4 बिलियन तक पहुँचाता नज़र आता है।

वहीं इस नए निवेश को लेकर Reliance Industries के अध्यक्ष और एमडी मुकेश अंबानी ने कहा;

“PIF हमेशा से ही सऊदी अरब के आर्थिक परिवर्तन के मामले में सबसे नज़र आया है। और हम Reliance और सऊदी अरब के दिग्गज़ फ़र्म के साथ एक लंबे समय से बेहतरीन संबंध निभाते चले आ रहे हैं।”

“अब मैं Reliance Retail में भी एक अहम साझेदार के रूप में PIF का स्वागत करता हूं। साथ ही हम उनके निरंतर समर्थन और मार्गदर्शन के साथ 1.3 बिलियन भारतीयों और लाखों छोटे व्यापारियों के जीवन को समृद्ध करने के लिए भारत के रिटेल क्षेत्र को बदलने की दिशा में प्रयास करते रहेंगें।”

यह निवेश PIF की रणनीति के अनुसार है इससे दीर्घकालिक और वाणिज्यिक व्यवसायों में वैश्विक रूप से निवेश करन लंबे समय तक रिटर्न जेनरेट किया जा सकता है। और भला किसी भी वैश्विक कंपनी के लिए इस वक़्त निवेश के लिहाज़ से भारती रिटेल क्षेत्र से बेहतर विकल्प और क्या ही होगा।

लेकिन सबसे दिलचस्प बात यह है कि RRVL में PIF का निवेश तब आया है जब यह निवेश फ़र्म पहले ही Jio Platforms में भारी निवेश कर 2.32% हिस्सेदारी हासिल कर चुकी है।

इस बीच PIF के गवर्नर यासिर अल-रुम्यायन ने कहा,

“हम भारत के कुछ सबसे रोमांचक क्षेत्रों में अग्रणी खिलाड़ी Reliance Industries के साथ अपनी विश्वसनीय साझेदारी को आगे बढ़ानें को लेकर बेहद खुश हैं। ये निवेश दुनिया भर के नए व्यवसायों के साथ लंबी अवधि की साझेदारी को लेकर PIF की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। साथ ही हम सऊदी के लोगों के लिए बेहतर रिटर्न उत्पन्न करने और सऊदी अरब के आर्थिक विकास में सहयोग देने के लिए भी पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।”

RRVL फ़िलहाल भारत का सबसे बड़ा रिटेलर है जिसके देश के 6,500 से अधिक शहरों और कस्बों में 10,000 से अधिक स्टोर हैं। हाल ही में ही इसने $3.4 बिलियन में भारत में दूसरे सबसे बड़े रिटेलर Future Retail का भी अधिग्रहण किया है। लेकिन यह सौदा अभी Amazon के दख़ल के बाद थोड़ा विवादों में ज़रूर हैं, लेकिन जल्दी ही इसको लेकर भी कंपनियाँ स्थिति साफ़ करती नज़र आ सकती हैं।