TikTok के बैन के बाद से ही भारत के कई शॉर्ट-वीडियों क्षेत्र से जुड़े स्टार्टअप्स ने नाटकीय रूप से एक बड़ी उछाल दर्ज की। और ना सिर्फ़ उपयोगकर्ता बल्कि निवेशकों ने भी इन प्लेटफ़ोर्म का तेज़ी से रूख किया है।

और अब इसी कड़ी में भारत के शॉर्ट-फॉर्म वीडियो ऐप Mitron ने भी अब Nexus Venture Partners के नेतृत्व में $5 मिलियन का निवेश हासिल करने का ऐलान किया है। आपको बता दें इस निवेश दौर में LetsVenture और 3one4 Capital ने भी अपनी भागीदारी दर्ज की।

अप्रैल 2020 में लॉन्च किया गया यह Mitron ऐप शॉर्ट-वीडियो शेयरिंग ऐप है जो उपयोगकर्ताओं को शॉर्ट वीडियो बनाने, अपलोड करने, देखने और शेयर करने की सहूलियत देता है।

आपको बता दें इसकी स्थापना शिवांक अग्रवाल और अनीश खंडेलवाल ने की है। वह दोनों ही कंप्यूटर साइंस इंजीनियर हैं और पहले MakeMyTrip में साथ काम करते थे। कंपनी के मुताबिक PlayStore पर इसके 33 मिलियन से अधिक डाउनलोड हैं और प्रतिमाह 9 बिलियन वीडियो व्यू का भी आँकड़ा प्लेटफ़ोर्म ने पार कर लिया है।

दरसल इस नए निवेश दौर में कई एंजल निवेशकों ने भी भागीदारी की, जिसमें देव कालरा (अध्यक्ष, MakeMyTrip), अमरीश राऊ (सीईओ, Pine Labs), जितेन गुप्ता (संस्थापक, Jupiter), अमरजीत बत्रा (एमडी, Spotify India), आनंद चंद्रशेखरन (Facebook, Snapdeal के पूर्व अधिकारी) आदि शामिल रहे।

इनके साथ ही करण बाजवा (एमडी, Google Cloud, India), राधिका घई (सह-संस्थापक, Shopclues), विकास सहनी (GoIbibo के सह-संस्थापक और पूर्व-सीटीओ और AarogyaSetu के Volunteer Architect) और शांति मोहन (संस्थापक, LetsVenture), टी.के. कुरियन (Premji Invest), मनीष विज और हरीश बहल (Smile Group) ने भी भागीदारी की।

इस बीच ईटी के अनुसार, कंपनी के सह-संस्थापक, अनीश खंडेलवाल ने एक बयान में कहा,

“हम अपने प्रोडक्ट अनुभव में तेजी से सुधार कर रहे हैं और इस नए फंडिंग राउंड के साथ हम प्रोडक्ट इंजीनियरिंग आदि क्षेत्र में बेहतर करने के लिए इसका निवेश कर पाएँगे, जो हमें एक विश्व स्तरीय प्लेटफ़ोर्म बनाने में मदद करेगा, जो हमारा मूल मक़सद भी है।”

कंपनी की माने तो यह उपयोगकर्ता के अपने जुड़ाव को बढ़ाने और बेहतरीन प्रतिभाओं को और मौक़ा देने के उद्देश्य से अपने प्रोडक्ट आदि को बेहतर बनाने में इस प्राप्त निवेश का इस्तेमाल करेगी।

इसके साथ ही कंपनी ने ऐप पर भारतीय कंटेंट क्रिएटर्स के एक विस्तृत नेटवर्क को ऑनबोर्ड करने की भी योजना बनाई है, जिसके लिए भी इस निवेश का इस्तेमाल किया जाएगा।