हाल ही में सामने आई एक रिपोर्ट के मुताबिक़, ऑनलाइन रिटेल चैनल 2020 में कुल स्मार्टफोन बाजार में 45% हिस्सेदारी पर कब्जा कर सकते हैं, जो फ़िलहाल साल 2020 की दूसरी तिमाही में 43% की स्मार्टफोन बाजार में इनकी हिस्सेदारी से अधिक होगा।

दरसल Counterpoint Research के ज़रिए सामने आए आँकड़ों के अनुसार यह देखा गया है कि अब ग्राहकों के व्यवहार में बदलाव आ रहें हैं और वह कम से कम ऑफ़लाइन ख़रीदारी की ओर रुझान कर रहें हैं। लेकिन इन सब के बीच जो दिलचस्प आँकड़े और सामने आए, वह यह कि Flipkart ने इस ऑनलाइन बिक्री में जहाँ 42% की भागीदारी दर्ज की वहीं पहली बार Flipkart से आगे निकलते हुए Amazon India ने इसको लेकर 47% का आँकड़ा छुआ।

दरसल रिपोर्ट के हवाले से मानें तो ऑनलाइन बिक्री की ओर लोगों का रुझान COVID-19 के चलते बने हालातों में काफ़ी बढ़ा है। लेकिन पिछले वर्ष की तुलना में ऑनलाइन चैनलों के शिपमेंट में भी गिरावट आई है।

एक तरफ़ ब्रांड अपने उत्पाद के साथ-साथ चैनल रणनीतियों को भी वॉल्यूम बढ़ाने की दिशा में ही ले जाने के प्रयास कर रहें है। वहीं Counterpoint की रिपोर्ट के अनुसार EMI सहित कई तरह के विकल्पों और आकर्षक ऑफ़रों ने उपकरणों की ख़रीद के लिए ऑनलाइन चैनलों को अधिक किफायती और आकर्षण बना दिया है।

इस बीच ख़ास यह भी रहा कि इस तिमाही के दौरान कई ब्रांडों ने अपने ऑफलाइन चैनल भागीदारों की मदद के लिए एक ऑनलाइन-टू-ऑफलाइन (O2O) बिजनेस मॉडल और हाइपरलोकल डिलीवरी सेवाओं को भी अपनाया और इससे उनको फ़ायदा होता भी दिखा।

वहीं आप ऑनलाइन चैनलों की बढ़ती लोकप्रियता को इस बात से भी आंक सकतें हैं कि इस तिमाही में कोई भी फ़ोन सिर्फ़ ऑफलाइन बिक्री के लिहाज़ से लॉंच ही नहीं किया गया। बल्कि इसके विपरीत इसी तिमाही के दौरान 11 फ़ोन सिर्फ़ और सिर्फ़ ऑनलाइन बिक्री के लिए ही लॉन्च किए गए थे।

बात करें टॉप ब्रांड की तो चीन का Xiaomi ऑनलाइन चैनलों में बिक्री पर 44% हिस्सेदारी के साथ बाजार में आगे खड़ा नज़र आया।

लेकिन इस बीच कोरियाई कंपनी Samsung ने भी ऑनलाइन चैनलों पर आक्रामक बढ़त हासिल की और अपनी हिस्सेदारी को 25% तक बढ़ा दिया, जो ऑनलाइन चैनलों में कंपनी का अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन है।

Samsung की M-सीरीज़ ने स्वाभाविक रूप से स्मार्टफोन्स क्षेत्र में कंपनी को आगे बनाए रखने में मदद की। वहीं Flipkart पर realme टॉप ब्रांड बनकर उभरा। इस बीच 2020 की दूसरी तिमाही में स्मार्टफ़ोन बिक्री को लेकर ऑफ़लाइन चैनलों ने 57% की हिस्सेदारी दर्ज की।