भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स वेबसाइटों में से एक Flipkart ने अपना पहला Startup Accelerator प्रोग्राम, Flipkart Leap लॉन्च किया है। इस प्रोग्राम के तहत कंपनी अपनी पूरी क्षमता के आधार पर शुरुआती स्तर के स्टार्टअप्स की एक विस्तृत श्रृंखला में अपना समय और धन दोनों निवेश करेगी।

इस प्रोग्राम को लॉंच करते हुए कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट में लिखा;

“भारत के स्टार्टअप ईकोसिस्टम को मजबूत करने और स्थानीय उद्यमियों की कम्यूनिटी का निर्माण करने के लिए हम Flipkart Leap पेश कर रहें हैं, जो हमारे Startup Accelerator के रूप में आगे बढ़ेगा।”

इस 16 हफ़्ते के लंबे प्रयास के रूप में कंपनी सामान्य Startup Accelerator की सुविधा प्रदान करेगी। इसमें हैंड-ऑन वर्कशॉप, वन-ऑन-वन मेंटर सेशन, इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स से मास्टर क्लासेस और स्टार्टअप के सफर को टर्बो-चार्ज करने के लिए नेटवर्किंग इवेंट्स शामिल होंगें।

इसके अतिरिक्त Flipkart शुरुआती स्तर के स्टार्टअप में एक कार्यशील प्रोटोटाइप और एक सीमा तक निवेश करने का भी लक्ष्य बना रही है। सबसे पहले अगरआपका स्टार्टअप “डिज़ाइन और मेक फॉर इंडिया” पर फिट बैठता है मतलब अगर आप भारतीय ग्राहकों के लिए उपभोक्ता व तकनीकी प्रोडक्ट प्रदान करना चाहते हैं, या COVID-19 के माहौल के बाद ऑफ़लाइन क्षेत्रों जैसे को डिजिटल बनाने की योजना बना रहे हैं या फिर एग्रीटेक, एडटेक, हेल्थटेक आदि क्षेत्रों  में क़दम रखना चाह रहें हैं तो यह आपके लिए एक सही प्रोग्राम साबित हो सकता है।

वहीं अगर आपकी कंपनी डिजिटल कॉमर्स में इनोवेशन प्रदान करती है, जैसे नए फ्रेमवर्क और वर्टिकल स्पेसिफिक सॉल्यूशंस जो ग्राहकों को खरीदने के अनुभव को बढ़ाते हैं, लॉयलटी और अफोर्डेबिलिटी का निर्माण कर ग्राहकों को जोड़ने और बनाए रखने को लेकर कोई विचार आदि की सुविधा देती है तो आप बेशक Flipkart Leap में जगह बना सकतें हैं और आपको शायद प्राथमिकता भी दी जाए।

अगर आपका स्टार्टअप Platform Seller Capabilities जैसे टूल, इनसाइट आदि का उपयोग करके ऑनलाइन विक्रेताओं के लिए रिटेल जगत में बेहतरीन समाधान प्रदान करता है या आपको लगता है कि आपकी कंपनी के पास SMEs/MSMEs को डिजिटलीकरण करने की क्षमता, उनके परिचालन क्षमता में सुधार, नए वित्तीय प्रोडक्ट आदि प्रदान करने की क्षमता है तो आप भी शायद Flipkart Leap परिवार का हिस्सा बन पाएँ।

इसके साथ ही सप्लाई चेन मैनेजमेंट और लॉजिस्टिक्स क्षेत्र में स्पीड, ट्रांसपेरेंसी और ऑप्टिमाइज़ेशन में सुधार करने का मक़सद रखने वाली कम्पनियाँ या फिर ऑटोमेशन, डिवाइसेस और नई तकनीकों के ज़रिए हाइपरलोकल डिलीवरी सॉल्यूशंस प्रदान करने वाले स्टार्टअप्स भी इस प्रोग्राम के अनुकूल हैं।

साथ ही ई-कॉमर्स के अनुरूप ML और AI आदि तकनीक का उपयोग करके या फिर ब्लॉकचैन, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, बिग डेटा आदि क्षेत्र में कार्यरत स्टार्टअप को भी प्रमुखता दी जा सकती है।

इस बीच चयनित स्टार्टअप्स Flipkartके इकोसिस्टम तक पहुँच प्राप्त करने के साथ ही साथ $25,000 के इक्विटी मुक्त निवेश को भी हासिल कर पाएँगें। इसके साथ ही उन्हें बेशक Flipkart नेट्वर्क का भी पूरा लाभ उठाने का मौक़ा दिया जाएगा।

आपको बता दें इस प्रोग्राम का फल चरण आज से शुरू हो रहा है अर्थात् 10 अगस्त से और कंपनी ने आज से ही आवेदन भी शुरू कर दिए हैं, जो अगले महीने के अंत तक यानि 30 सितंबर तक चलेंगें। वहीं 10 अक्टूबर से Flipkart चयनित स्टार्टअप्स के साथ व्यावसायिक बैठकों का संचालन शुरू कर देगा, और केवल 5 दिनों में विजेताओं आदि की घोषणा कर दी जाएगी और फिर 28 फरवरी को अगले प्रोग्राम की शुरुआत होगी।

इस बीच आप इस प्रोग्राम के लिए यहाँ आवेदन कर सकतें हैं।