दुनिया की दिग्गज़ टेक कंपनी Apple Inc. ने 2020 की तीसरी तिमाही संबंधित अपनी राजस्व रिपोर्ट पेश की है। और ख़ास यह है कि Q3’2020 में कंपनी का कुल राजस्व $59.7 बिलियन रहा जो 11% वर्ष-दर-वर्ष वृद्धि को दर्शाता है।

इतना ही नहीं बल्कि कंपनी ने प्रति शेयर $2.58 की तिमाही आय दर्ज कने के साथ 18% की वृद्धि का आँकड़ा छूते नज़र आए। दिलचस्प यह है कि Wall Street ने इन दोनो आँकड़ो का अनुमान $52.25 बिलियन और $2.04 EPS लगाया था, जिसको कंपनी ने ज़ाहिर तौर पर पीछे छोड़ दिया है।

असल में दुनिया भर में महामारी की स्थिति के बीच Apple के बिक्री राजस्व का अधिकांश हिस्सा अंतरराष्ट्रीय बाजारों से आया है, जो कुल राजस्व का लगभग 60% है।

इतना ही नहीं बल्कि Apple ने साफ़ किया कि उत्पादों और सेवाओं दोनो में ही एक साथ विकास दर्ज किया गया है, जो क़रीब क़रीब सभी मौजूदा देशों में देखनें को मिला।

इस बीच iPhone का राजस्व पिछले वर्ष की तुलना में $500 मिलियन अधिक रहा, और यह $26.4 बिलियन का आँकड़ा छूता नज़र आया। अप्रैल में लॉन्च हुए किफायती iPhone SE ने इस तिमाही की कमाई को बढ़ाने में मदद की।

वहीं Apple सेवाओं जैसे iCloud और Apple Music आदि के ज़रिए भी इस तिमाही में कंपनी के राजस्व में $13.1 बिलियन का आँकड़ा देखा गया। आपको बता दें यह पिछले साल $11.5 बिलियन ही था।

इसके साथ ही साथ Apple ने अपने Wearable सेगमेंट में शानदार प्रदर्शन दिया। इसका राजस्व $6.4 बिलियन तक पहुँच गया, जो पिछले आँकड़ों से $0.9 बिलियन अधिक है।

लेकिन कंपनी को इस बीच एकमात्र निराशा हाथ लगी और वह है नए iPhones के लॉन्च में संभावित देरी। Apple के मुख्य वित्तीय अधिकारी Luca Maestri ने सप्लाई चेन को लेकर आ रही तकलीफ़ की पुष्टि की और कि iPhones की नई लाइनअप, जो आमतौर पर सितंबर के अंत में जारी की जाती है, में कुछ देरी की संभावनाएँ जताई।

इस बीच बाजार में पहले से ही तेजी के साथ कुछ शानदार कमाई के आँकड़े हासिल करने के बाद कंपनी ने पहली बार $400 के निशान के साथ Apple स्टॉक वैल्यू के नए आँकड़ो को दर्ज किया। इसके चलते कंपनी ने स्टॉक स्प्लिट करने की भी घोषणा कर दी है। जी हाँ! निवेशकों के व्यापक आधार तक स्टॉक को अधिक सुलभ बनाने के लिए कंपनी ने 4:1 स्टॉक स्प्लिट की घोषणा की। 24 अगस्त को शेयरहोल्डर्स को अपने हर एक शेयर के लिए तीन और शेयर प्राप्त होंगे। इसके बाद कारोबार 31 अगस्त से शुरू होगा। आपको बता दें 2014 में हुए कंपनी के पाँचवे स्टॉक स्प्लिट के बाद देखा जा रहा है।

Apple, Google की पैरेंट कंपनी Alphabet, Facebook, Amazon ने एक ही दिन में ब्लॉकबस्टर कमाई की घोषणा की है। दिलचस्प बात यह है कि यह आँकड़े तब के हैं जब अमेरिकी सकल घरेलू उत्पाद पिछली तिमाही में 32.9% वार्षिक दर पर गिर गया था, जो महामंदी के बाद देश का सबसे खराब आर्थिक प्रदर्शन रहा।

दरसल यह रिपोर्ट तब आई हैं जब एक दिन पहले ही दुनिया की चार सबसे बड़ी कंपनियों के CEOs को अमेरिकी कांग्रेस के सामने सुनवाई में पेश होना पड़ा था, जिसमें Apple CEO Tim Cook भी शामिल थे।

इन कंपनियों को यह सुनिश्चित करने के लिए बुलाया गया था कि क्या उन्होंने इंडस्ट्री में अपनी शक्ति का दुरुपयोग तो नहीं किया? Apple को विशेष रूप से कमीशन संरचना पर घेरा गया जिसमें अपने App Store पर प्रतिस्पर्धी App को दबाने का भी आरोप शामिल रहा।