apple-reports-double-digit-revenue-growth-in-india

फ़िलहाल जब Made In India मुहिम को लेकर देश में एक व्यापाक माहौल बना हुआ है, ऐसे में Apple में इसी कड़ी में अपने दावे को और पुख़्ता साबित कर दिया है।

जी हाँ! असल में Apple ने चेन्नई के पास स्थित Foxconn के प्लांट में अपनें फ्लैगशिप iPhone 11 का उत्पादन शुरू कर दिया है। ख़ास यह है कि देश में पहली बार Apple अपने इस टॉप मॉडल फ़ोन का निर्माण शुरू कर रहा है, जो सीधे तौर पर कुछ समय पहले Make In India को लेकर की गई इसकी प्रतिबद्धता ज़ाहिर करता है।

ईटी के ज़रिए सामने आई इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि सूत्रों के अनुसार Apple इस उत्पादन की प्रक्रिया को चरणबद्ध तरीके से आगे बढ़ाएगी और इन भारत निर्मित iPhone 11 के निर्यात को लेकर भी कंपनी विचार कर रही है।

लेकिन सबसे दिलचस्प बात यह है कि कंपनी ने कीमतों में कटौती नहीं की है क्योंकि यह भारत में चीन में बने iPhone 11 हैंडसेट भी बेचती है। लेकिन बेशक आने वाले समय में Apple इस दिशा में भी क़दम बढ़ा सकता है, क्योंकि स्थानीय उत्पादन से Apple का 22% आयात शुल्क बचेगा।

इसके साथ ही सूत्रों के मुताबिक़ Apple बेंगलुरु के पास Wistron प्लांट में नए iPhone SE बनाने की योजना पर विचार कर रहा है। आपको याद दिला दें यह प्लांट पहले के iPhone SE का उत्पादन करता था, जिसका उत्पादन बाद में बंद कर दिया गया।

ज़ाहिर है यह नया क़दम Apple द्वारा मैन्युफ़ैक्चरिंग के स्थानीयकरण को बढ़ावा दे रहा है, और ऐसी उम्मीद भी थी, क्योंकि कंपनी भारत सरकार की Production Linked Incentive (PLI) स्कीम का पूरा लाभ उठाना चाहेगी।

इस बीच यह भी है कि जानकारों के अनुसार यह क़दम Apple को मैन्युफ़ैक्चरिंग को लेकर चीन पर से अपनी निर्भरता को थोड़ा कम करने में भी मदद करेगा।

सबसे ख़ास बात यह है कि सितंबर में लॉन्च हुए तीन नए मॉडलों में से iPhone 11 भारत में सबसे ज़्यादा बिकने वाले Apple फ़ोनों में शुमार हो गया है। इसके साथ ही Apple देश में दो अन्य हैंडसेट मॉडल बनाता है, Foxconn के प्लांट में iPhone XR और Wistron फैक्ट्री में iPhone 7 भी।

वहीं रिपोर्ट में IDC India की एक रिपोर्ट के हवाले से कहा गया, भारत में 62.7% बाजार हिस्सेदारी के साथ Apple ने प्रीमियम सेगमेंट ($500 और उससे अधिक/35,000 रुपये) में अपना वर्चस्व कायम किया है, जिसके बाद जनवरी-मार्च तिमाही में Samsung और OnePlus ने अपनी जगह बनाई है।

दरसल शोधकर्ता कहते हैं, $700- $1,000 सेगमेंट में मार्च तिमाही में उच्च वृद्धि दर्ज की गई थी, क्योंकि सालभर में शिपमेंट दोगुनी हो गई थी। और इस सेगमेंट में 68% हिस्सेदारी iPhone 11 की रही। ऐसे में देश में ही इसके निर्माण की पहल एक महत्वपूर्ण क़दम बन जाता है।