स्वाभाविक है, जब आप एक छोटा व्यवसाय या कोई शुरुआती स्तर के किसी स्टार्टअप का संचालन कर रहें होते हैं, तो ऐसे में कर्मचारियों के लिए सही ग्रुप बीमा तलाश पाना मुश्किल हो जाता है।

ऐसा इसलिए भी क्योंकि सामान्यतः आप ही अपनी कंपनी में HR की ज़िम्मेदारी भी निभा रहें होते हैं, और ऐसे में अपनी छोटी टीम के सभी कर्मचारी लाभों को सुनिश्चित करना भी आपकी ही ज़िम्मेदारी हो जाती है।

लेकिन अब Insurtech ने इस समस्या को सबसे पहले पहचानते हुए अपने प्लेटफ़ॉर्म Plum के ज़रिए कर्मचारियों के ग्रुप बीमा को आसान बना दिया है। और इसकी क्षमताओं और संभावनाओं को देखते हुए अब निवेशकों ने भी इस पर भरोसा जताना शुरू किया है, जिसके तहत कंपनी ने सीड राउंड में $930K (क़रीब ₹7 करोड़) का निवेश हासिल किया है।

आपको बता दें इस कंपनी ने यह निवेश मुख्यतः ऐज़ल निवेशकों से हासिल किया। इस राउंड का नेतृत्व Incubate Fund ने Gemba Capital और Tracxn Labs के साथ मिलकर किया और साथ ही इसमें बतौर ऐंजल निवेशक Praxify Health से अभिजीत गुप्ता और राम सहस्रनाम, Belong.co के सुधींद्र चिलगापुरी, Pando के नितिन जयकृष्णन और Xiaomi से Alvin Tse शामिल रहे।

दरसल Plum की पेशकश बेहद आसान है। अन्य InsurTech प्लेटफार्मों के विपरीत, (जो मुख्यतः डिजिटल बिचौलियों के रूप में कार्य कर रहे हैं, और आपके लिए बीमा योजनाओं की मानों बमबारी सी पेशकश करते हैं), Plum सिर्फ़ और सिर्फ़ Group Insurance पर ही अपना ध्यान केंद्रित करता है।

Plum के सह-संस्थापक और सीईओ, अभिषेक पोद्दार ने इस निवेश को लेकर कहा;

“Plum के साथ हम भारत में हर कंपनी को अपने कर्मचारियों के लिए एक उच्च गुणवत्ता वाला स्वास्थ्य कवर प्रदान करने के प्रयास कर रहें हैं, भले वह कोई छोटी कंपनी को या बड़ी। हम भारत में शुरू में कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा और बाद में दक्षिण पूर्व एशिया और लाटम जैसे अन्य विकासशील बाजारों में अपने इस प्लेटफॉर्म को पेश करने का लक्ष्य लेकर चल रहें हैं।”

60 मिनट से भी काम में ग्रुप बीमा योजना प्रदान करने के अलावा, Plum डॉक्टर परामर्श, स्वास्थ्य जांच, फिटनेस और योग, मानसिक कल्याण, पोषण और दंत चिकित्सा देखभाल सहित बेहतर स्वास्थ्य लाभ को लेकर भी कर्मचारियों की मदद करता है।

असल में यह प्लेटफॉर्म उनकी बीमा योजनाओं को कर्मचारियों के लिए अनुभव के हिसाब से बेहद आसान भी बनाता है। और हाल ही में COVID-19 के प्रकोप कि देखते हुए Plum अपने ग्राहकों को एक पेशकश के रूप में COVID-19 कवर भी प्रदान कर रहा है, फिर भले कंपनी का आकार कैसा भी हो।

इतना तो साफ़ है कि भारत में ग्रुप स्वास्थ्य बीमा बाजार बहुत बड़ा है। और हाल ही के समय में इसकी माँग में और भी अधिक इज़ाफ़ा देखा जा रहा है और आगे भी यह सिलसिला जारी रह सकता है।

वर्तमान बाजार अपने आप में कुल स्वास्थ्य बीमा बाजार का लगभग 50% है, और 2025 तक इसके $13 बिलियन तक बढ़ने की उम्मीद है। इसने पिछले कुछ वर्षों में लगभग 25% की वार्षिक वृद्धि दर्ज की है और ख़ास यह है कि यह वृद्धि दर हर तीन साल में दोगुनी हो रही है।