कभी अपने मैसेजिंग प्लेटफ़ोर्म के ज़रिए WhatsApp को कड़ी टक्कर देने की क्षमता रखने वाली भारतीय इंटरनेट कंपनी Hike एक बार फिर से सुर्ख़ियाँ बटोरती नज़र आ रही है।

दरसल कारण है कि Hike ने अब अपने उसी मैसेजिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से मोबाइल-फ़र्स्ट वर्चुअल वर्ल्ड, HikeLand नामक एक नया प्रोडक्ट लॉंच किया है।

ईटी की रिपोर्ट के अनुसार, HikeLand असल में 17 से 22 साल की उम्र वाले बच्चों को टार्गेट करता नज़र आएगा, इसके ज़रिए उन्हें दोस्तों के साथ वर्चूअल तरीक़े से बाहर घूमने और रियल टाइम वॉयस के ज़रिए जुड़े होकर एक साथ वीडियो देखने की सुविधा मिलती है।

मौजूदा हालतों को देखते हुए यह एक अच्छा प्रयास कहा जा सकता है। लेकिन कविन भारती मित्तल द्वारा 2012 में स्थापित Hike, जिसके निवेशकों की लिस्ट में Tiger Global और Softbank जैसे दिग्गज नाम शुमार हैं, का इतिहास देश में काफ़ी सुनहरा नहीं कहा जा सकता है।

दरसल भले थोड़े से वक़्त के लिए Hike देशभर में तेज़ी से बढ़ता नज़र आया और कई लोग इसको WhatsApp का प्रबल प्रतिद्वंदी भी मनाने लगे थे, लेकिन कुछ ही समय बाद Hike वापस से गुमनामी में जाता दिखाई देने लगा और आलम यह था कि यह कम्पनी तब से स्टिकर चैट और गेमिंग में ही सिमट कर रह गई।

दरसल तेज़ी से लोकप्रिय होने के बाद भी Hike उतनी रफ़्तार से लम्बें समय तक अपना उपयोगकर्ता आधार नहीं बढ़ा पाया और कहीं ना कहीं कम्पनी भी इस बात को समझनें लगी थी, लेकिन शायद अपने मैसेजिंग सेवा को बढ़ाने के लिए कम्पनी कोई उतने ठोस क़दम भी उठाते नज़र नहीं आयी, जिसे लगे कि कम्पनी अपनी मैसेजिंग सेवा को लेकर काफ़ी गंभीर है और एक लम्बें समय के प्लान के साथ इस सेवा को लॉंच कर रही है।

बहरहाल! उसके बाद Hike बेशक ही लाइव ज़रूर रहा, लेकिन उसकी लोकप्रियता भी काफ़ी तेज़ी से काम होने लगी।

ख़ैर अब अपने नए HikeLand प्रोडक्ट के साथ कम्पनी उपयोगकर्ताओं को दो तरह के वर्चूअल एक्सपीरियंस देना चाहती है, और इसलिए इसको होम और Big Screen जैसी सेवाओं के साथ पेश किया गया है।

एक ओर वर्चुअल ‘Home’ में जहाँ में उपयोगकर्ताओं के पास अपना स्थान होता है जहां वो YouTube द्वारा संचालित वीडियो दोस्तों के साथ देखते हुए उनसे बात भी कर सकतें हैं। इतना ही नहीं बल्कि उपयोगकर्ता अपने घर की सजावट को भी अनुकूलित कर सकते हैं, और उपयोगकर्ता के इन्वाइट के बिना कोई भी उनके वर्चूअल Home में प्रवेश नहीं कर सकता है।

वहीं Big Screen सुविधा के चलते उपयोगकर्ता अपनी पसंद के शो में जा सकते हैं, बाहर घूम सकते हैं, अन्य लोगों के साथ वीडियो देख सकते है।

आपको बता दें मौजूदा वक़्त में कम्पनी के दावों के अनुसार Hike Messenger में लगभग 2 मिलियन साप्ताहिक सक्रिय उपयोगकर्ता हैं, और वह इस पर एक दिन में लगभग 35 मिनट खर्च करते हैं।

लेकिन देखनें वाली दिलचस्प बात यह होगी कि Hike अपनी इस सुविधा को लोगों तक पहुँचाने के लिए कैसे कैसे प्रयास करता है। दरसल मैसेजिंग ऐप सुविधा की वजह से लोकप्रियता अर्जित करने वाली यह कम्पनी फ़िलहाल वापस अपनी उसी लोकप्रियता को हासिल करना चाहती है, लेकिन फिर से एक नई पहचान के साथ।