लीजिए आख़िरकार Twitter ने भी अन्य सोशल मीडिया प्लेटफ़ोर्म की तर्ज़ पर भारत में अपने प्लेटफ़ोर्म में भी Stories जैसे फ़ीचर की शुरुआत कर दी है।

दरसल Fleets नामक इस फ़ीचर को प्लेटफ़ोर्म ने मार्च में ही पेश कर इसका परीक्षण शुरू किया था। और अब कम्पनी ने भारत में भी इसको पेश कर दिया है। आपको बता दें भारत अब Twitter की इस सुविधा हासिल करने वाले टॉप-3 देशों में शुमार हो चुका है।

आपको बता दें इसकी घोषणा सबसे पहले Twitter के प्रोडक्ट हेड, Kayvon Beykpour ने की। उन्होंने इसकी घोषणा करते हुए कहा,

“नमस्ते! आज से Fleets भारत में लॉंच हो रहा है। यदि आप भारत में हैं, तो इसे देखें और हमें बताएं कि आप क्या सोचते हैं! #FleetsFeedback”

इसके बाद Twitter ने अपने अधिकारिक अकाउंट से भी इस बात की पुष्टि की। इस ट्वीट में कम्पनी ने कहा;

“टेस्टिंग, टेस्टिंग… हम आपके लिए एक तरह से टेस्टिंग कर रहे हैं, जो कि Fleets के ज़रिए आपको बिना LIKE, RETWEET, और REPlY जैसी सहूलियतों के पोस्टिंग की इजाज़त देगा। दिलचस्प भाग यह है कि यह 24 घंटे के बाद गायब हो जाएगा।”

जी हाँ! दरसल काफ़ी समय के इंतज़ार के बाद अब जाकर इस फ़ीचर को पेश को किया गया है। आपको बता दें ऐसी ही सुविधा पहले से देने वाले सोशल मीडिया प्लेटफ़ोर्म में Instagram, Facebook और Snapchat भी शामिल हैं। इनमें आपको Fleets की तरह ही Stories का फ़ीचर मिलता है, जो 24 घंटें बाद ग़ायब हो जाती हैं।

लेकिन शायद कांटेंट के मामले में Twitter पर इसकी तस्वीर अलग नज़र आए। ज़ाहिर है Twitter पर आपका अकाउंट निजी होते हुए भी आपके पोस्ट बिल्कुल भी निजी नहीं समझे जातें हैं। ऐसा इसलिए भी क्योंकि आपकी प्रोफ़ाइल किसी भी उपयोगकर्ता द्वारा देखी जा सकती है।

लेकिन दिलचस्प यह है कि Fleets कभी भी Search या Moment में नज़र नहीं आते और साथ ही ना ही इन्हें कोई थर्ड पार्टी प्लेटफ़ोर्म में एम्बेड कर सकता है।

ख़ास है इस चीज़ें Fleets जो ट्वीट के मुक़ाबलें थोड़ा निजी बनाती हैं, लेकिन इसके बाद भी इसको भी पूरी तरह से सार्वजनिक कांटेंट के टैग से दूर नहीं रखा जा सकता है।

लेकिन इतना ज़रूर है कि इस सार्वजनिक प्लेटफ़ोर्म पर एक प्राईवेसी का एहसास देने के लिए कम्पनी ने Fleets में ReTweet या Like जैसी सहूलियत को दूर रखा है। उन्हें सिर्फ़ 24 घंटों के लिए ऊपर देखा जा सकता है।लेकिन इतना ज़रूर है कि Fleets पर कोई व्यक्ति आपको पर्सनल मैसेज करके रिप्लाई दे सकेगा।

साथ ही सबसे ख़ास बात आपको बता दें कि Twitter के अनुसार इसको एक चरणबद्ध तरीक़े से रोल-आउट किया जा रहा है, मतलब साफ़ है कि आपके डिवाइस पर Fleets सुविधा आनें में अभी भी कुछ समय लग सकता है।

लेकिन इतना ज़रूर है कि कम्पनी के ऐलान के अनुसार भारत में अपडेट किए गए iOS और Android ऐप वर्जन में आने वाले दिनों में सभी के लिए Fleets उपलब्ध होंगे।