जैसा कि स्वाभाविक था, Reliance Jio की फंडिंग का सिलसिला अभी रुकने वाला नहीं। और कंपनी ने इस बात पर फिर से एक बार मोहर लगा दी है।

जी हाँ! सही समझ रहें हैं आप, एक बार फिर से Jio Platforms ने भारी निवेश हासिल किया है। इस बार इसको यह निवेश General Atlantic से मिला है, जिनसे Jio Platforms में $65 बिलियन की वैल्यूएशन पर $870 मिलियन का निवेश किया है।

General Atlantic ने इस निवेश के जरिये Jio Platforms में 1.34% की इक्विटी हिस्सेदारी हासिल कर ली है। जाहिर है आँकड़े देखने लायक हैं, दरसल इस नए निवेश को जोड़ दिया जाये तो Reliance Industries के मालिकाना हक वाले Jio Platforms ने हाल के कुछ दिनों में ही Facebook, Silver Lake, Vista Equity और अब General Atlantic से कुल मिला कर ₹67,194.75 करोड़ (~ $8.9 बिलियन) का निवेश हासिल कर लिया है।

आपको याद दिला दें कि मुकेश अंबानी ने कंपनी में 20% हिस्सेदारी बेचने का लक्ष्य तय किया है, उसमें से अब तक कंपनी कुल 14.7% की हिस्सेदारी बेच चुकी है और सिर्फ अपने लक्ष्य से 5.3% ही दूर है।

दरसल Jio भारत में 388 मिलियन से अधिक सक्रिय ग्राहक आधार के साथ, आंकड़ों के आधार पर दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल डेटा खपत वाली टेलीकॉम कंपनी बन चुकी है। और इतना ही नहीं बल्किटेलीकॉम क्षेत्र में अपनी इंटरनेट और कॉलिंग सेवाओं के साथ ही साथ कंपनी अन्य डिजिटल सेवा क्षेत्रों में भी अपने प्रसार के मौके तलाश रही है। खासतौर पर कंपनी का मकसद डिजिटल रिटेल बिज़नेस में देश में मौजूद व्यापक संभावनाओं का लाभ उठाने का है।

इस बीच इस नए निवेश पर General Atlantic के सीईओ Bill Ford ने कहा;

“हम मुकेश अंबानी के उस मकसद का समर्थन करते हैं, जिसके तहत वह डिजिटल कनेक्टिविटी से भारतीय अर्थव्यवस्था को तेज करने और पूरे देश में विकास को गति देने की दिशा में काम कर रहें हैं। General Atlantic के पास परिवर्तनकारी व्यवसायों को स्थापित करने के लिए उनके संस्थापकों के साथ काम करने का एक लंबा ट्रैक रिकॉर्ड है, और इस पैमानें पर Jio भी पूरी तरह खरा उतरता है।”

हम आप सभी को बताना चाहेंगें कि General Atlantic टेक्नोलॉजी क्षेत्र के सबसे पुरानें और विश्वसनीय निवेशकों में शुमार है। इसके पोर्टफोलियो में Airbnb, Alibaba, Uber, Facebook जैसे तमाम तकनीकी दिग्गज शामिल हैं।

दिलचस्प यह है कि Vista Equity Partners द्वारा करीब दो हफ्ते पहले ही Jio में ऐसे ही सामान निवेश के बाद अब General Atlantic ने भी इस दिशा में सफल कदम उठाया है। लेकिन इसकी शुरुआत की थी Facebook ने, जिसनें $58 बिलियन की वैल्यूएशन पर $5.7 बिलियन का निवेश करके Jio Platforms पर 9.99% की हिस्सेदारी हासिल की थी। इसके बाद Silver Lake ने 1% हिस्सेदारी के लिए कंपनी में $748 मिलियन का निवेश किया, और तब इसकी वैल्यूएशन $65 बिलियन आँकी गयी थी।

दरसल हाल ही में ही हुई तिमाही राजस्व बैठक में Reliance Industries के मालिक मुकेश अंबानी ने यह साफ़ कर दिया था कि वह कंपनी को क़र्ज़ मुक्त बनाने के उद्देश्य से Jio की 20% हिस्सेदारी बेचने की रणनीति बना रहें हैं।

और अब अपने इस मकसद में मुकेश अंबानी ने जो 20% का लक्ष्य तय किया है, उसमें से लगभग 14.7%  हिस्सेदारी की डील हो चुकी है और अब सिर्फ 5.3% का लक्ष्य ही बचा है।