देश के टेलीकॉम सेक्टर से एक बड़ी खबर आई है और खास यह है कि इस बार Jio नहीं बल्कि Bharti Airtel ने सुर्खियाँ बटोरी हैं।

दरसल यह खबर है देश में 5G नेटवर्क को लेकर, जिसके तहत अब Bharti Airtel ने अपने नए 5G समर्थित क्लाउड टेलीकॉम नेटवर्क के निर्माण में सहयोग के लिए IBM और Red Hat को चुना है।

इकॉनोमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक सहयोग के तौर पर ये कंपनियां Airtel को नई सेवाओं की मदद के लिए देश भर में 4G नेटवर्क का मुद्रीकरण करने और 5G क्लाउड नेटवर्क के जरिये मुख्य संचालन में मदद करने का काम करेंगी।

जाहिर है इस कदम में तेजी दिखाते हुए असल में Airtel अपने मुख्य प्रतिद्वंद्वी Reliance Jio Infocomm से आगे निकलना चाहता है।

रिपोर्ट में एक अधिकारिक बयान का हवाला देते हुए बताया गया कि अब IBM और RedHat दोनों ही तय मानकों के आधार नयी पीढ़ी के नए कोर क्लाउड नेटवर्क, एनालिटिक्स टूल और नयी उपभोक्ता सेवाओं के निर्माण में Airtel को मदद करती नजर आयेंगी।

दिलचस्प यह है कि IBM और RedHat पहले से ही Vodafone Idea के साथ ऐसी ही सामान साझेदारी के तहत काम कर रहें हैं। इन कंपनियों ने Vodafone Idea के आईटी और नेटवर्क ऐप्स को एक सामान्य क्लाउड आर्किटेक्चर पर चल सकने में सक्षम बनाया है।

पर अब इस नए नेटवर्क क्लाउड के साथ Airtel को बेहतर नेटवर्क प्रदर्शन, और बेहतर उपलब्धता, ऑटोमैटिक संचालन और नेटवर्क को कोने कोने तक पहुँचाते हुए एक बेहतर ग्राहक अनुभव देने में भी खासी मदद मिलेगी।

विशेषज्ञों की मानें तो यह नयी कोशिश नेटवर्क पर विलंबता को कम करने और बैंडविड्थ की उपलब्धता व ऑटोमेशन में सुधार करने में मदद करेगा, जिससे नेटवर्क की क्वालिटी और बेहतर हो सकेगी।

अटकलें यह भी लगाई जा रहीं हैं कि यह नयी साझेदारी Airtel को अपनी सेवाओं के बाजार में बेहतर ढंग और समय पर पहुँचाने, परिचालन की जटिलता को कम करने और खर्चों में कटौती कर सकनें में भी मदद करती नजर आएगी।

दरसल आपको बता दें आधुनिक हाइब्रिड क्लाउड आर्किटेक्चर को अपनाने से संचार सेवा प्रदाताओं (CSPs) को मुख्यतः अधिक संवेदनशील नेटवर्क देने प्रदान करने की सहूलियत मिलती है। साथ ही बढ़ती ग्राहक जरूरतों को पूरा करने के लिए ऑटोमेशन और AI के इस्तेमाल को दूर-दराज के इलाकों तक पहुँचानें के नजरिये से भी यह बहुत मददगार होता है।

लेकिन दिलचस्प यह है कि अभी से ऐसी बातें सामनें आने लगीं हैं कि आगामी समय में Airtel का यह ओपन हाइब्रिड क्लाउड प्लेटफॉर्म गेमिंग, रिमोट मीडिया प्रोडक्शन और अन्य थर्ड-पार्टी सेवाओं की ऑन-बोर्डिंग कर कंपनी के लिए राजस्व के नए रास्ते खोलेगा।