farmers-protests-reliance-jio-loses-subscribers-in-haryana-and-punjab

जैसा की लगातार अटकलें लगाई जा रही हैं कि Reliance Jio द्वारा निवेश हासिल करने का दौर अभी रुकने वाला नहीं, और अब इसी सिलसिलें में ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट भी इसकी गवाही देने लगी है।

जी हाँ! दरसल हाल ही में अपने बैक-टू-बैक निवेश एक जरिये वैल्यूएशन को $65 बिलियन तक ले जानें वाले Jio Platforms में अब हिस्सेदारी खरीदने के लिए अन्य निवेशक भी नजरें गड़ाने लगें हैं।

दरसल इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक General Atlantic इस मुंबई स्थित Jio Platforms में अब $850 – $950 मिलियन के बीच निवेश करने का मन बना रही है।

और सूत्रों की मानें तो इस महीनें ही कंपनी इस सौदे को पूरा करने पर विचार कर रही है। हालाँकि अभी तक मामलें के जानकारों के पास भी सौदें की शर्तों और इसके स्वरुप को लेकर कोई पुख्ता जानकारी नहीं है।

वहीँ रिपोर्ट में एक और दिलचस्प बात यह सामने आई है कि सऊदी अरब आधारित Public Investment Fund (PIF) भी Jio में अल्पमत हिस्सेदारी खरीदनें पर विचार करने लगा है।

यह इसलिए इतना अहम हो जाता है क्योंकि कल यानि शुक्रवार को ही Reliance Industries ने Jio में $65 बिलियन की वैल्यूएशन पर Vista Equity Partners को $1.5 बिलियन में 2.32% हिस्सेदारी बेचने की घोषणा की थी।

और इसके पहले Jio में दुनिया की सबसे बड़ी सोशल मीडिया कंपनी Facebook ने 9.99% हिस्सेदारी के करीब $5.7 बिलियन डॉलर में खरीदी, जिसके बाद Silver Lake Partners ने भी Jio Platforms में $750 मिलियन का निवेश किया था।

आपको फिर से याद दिला दें कि अब तक Jio Platforms ने पिछले तीन हफ्तों में कुल मिलाकर $8.2 बिलियन (60,596.37 करोड़ रूपये) का निवेश हासिल कर लिया है।

और इस सिलसिलें के आगे बढ़ते रहने का एक और पुख्ता कारण है और वह है हाल ही में हुई Reliance Industries की तिमाही राजस्व कॉल में मुकेश अंबानी द्वारा किया गया ऐलान। दरसल इस ऐलान के तहत उन्होनें अपनी अपनी मंशा जाहिर करते हुए साफ़ कर दिया था कि वह Jio के लिए निवेश रास्ते कंपनी में 20% तक की हिस्सेदारी बेच Reliance Industries के लोन को कम करने की कोशिश करेंगें।

इस बीच यह दिलचस्प हो जाएगा कि मौजूदा हालातों में भी $8 बिलियन से अधिक का निवेश पहले ही हासिल कर चुकनें वाली Jio फिर से General Atlantic और करीब $300 बिलियन की संपत्ति का प्रबंधन करने वाले सऊदी के PIF से और निवेश हासिल करे। लेकिन ऐसा होना जाहिर है कि कोई हैरानी पैदा नहीं करेगा।