इस बात में कोई शक नहीं कि देश में चल रहे लॉकडाउन के दौरान भी जो क्षेत्र काफ़ी उपयोगी साबित होते हुए तेजी से वृद्धि करता नज़र आया, वह था ऑनलाइन लर्निंग या ई-लर्निंग जगत।

और जब देश में बात इस जगत की हो तो ऐसे में ई-लर्निंग स्टार्टअप Byju’s का जिक्र आना लाजमी है। उसकी वजह भी साफ़ है दरसल Byju’s फ़िलहाल भारत के ई-लर्निंग क्षेत्र में एक बड़ी हिस्सेदारी रखता है।

मौजूदा समय में भी इस जगत में दर्ज की गयी तेज वृद्धि का प्रभाव Byju’s पर भी पड़ा और कंपनी भी अब इस वृद्धि को भुनाने की कोशिश कर रही है। TechCrunch की एक रिपोर्ट के अनुसार यह सामने आया है कि Byju’s अब करीब $10 बिलियन की वैल्यूएशन पर निवेश हासिल करने की कोशिशों में है।

आपको याद दिला दें करीब 4 महीनें पहले ही Byju’s ने Tiger Global और General Atlantic से $400 मिलियन का निवेश हासिल किया था। इस बीच अधिकारिक रूप से तो इसका खुलासा नहीं हो सकता, लेकिन कहा जा रहा है कि यह निवेश कंपनी की वैल्यूएशन को $8 बिलियन आँकते हुए किया गया था।

मौजूदा समय में ई-लर्निंग कम्पनियां उन चुनिंदा कंपनियों में हैं, जो अपने ग्राहक आधार में नाटकीय वृद्धि दर्ज कर रहीं हैं। न सिर्फ Byju’s बल्कि Facebook समर्थित Unacademy, पेशेवर कोर्स आधारित Udemy आदि के भी उपयोगकर्ता आधार में भारी वृद्धि हुई है।

दिलचस्प यह है कि अन्य क्षेत्रों में जहाँ हो रही वृद्धि को अस्थायी ही माना जा रहा है, वहीँ ऑनलाइन शिक्षा क्षेत्र से यह उम्मीद की जा रही है कि यह नए परिवर्तनों को एक लम्बें समय तक बनाएं रख सकता है। और बच्चों के बीच यह ऑनलाइन लर्निंग की प्रक्रिया भविष्य में सीखनें का एक सबसे पसंदीदा विकल्प बन सकती है।

आपको बता दें इंडिया टुडे की हाल ही में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक 72% भारतीय, पारंपरिक कक्षाओं की बजाए ऑनलाइन ट्रेनिंग या ई-लर्निंग अधिक पसंद करते हैं। आपको बता दें Statista ने भी 2021 तक भारत के ई-लर्निंग मार्केट के $2 बिलियन तक हो जाने की बात कही है। लेकिन यह अनुमान मौजूदा हालातों के पहले का है। मौजूदा प्रकोप के कारण पैदा नए हालातों में इस क्षेत्र में आये नाटकीय बदलावों को देखकर ऐसा लगता है कि यह आँकड़ा अभी और बढ़ सकता है।

खास यह है कि Byju’s ने भारत के टियर 2 / टियर 3 शहरों में भी अपनी पहुँच स्थापित कर दी है। आँकड़ों की बात करें तो कंपनी के 65% साइन-अप भारत के महानगरों के बाहर से ही आ रहें हैं। इस पर Byju’s के सीईओ और संस्थापक Byju Raveendran ने पिछले साल फरवरी में कहा था कि

“हमारे 65% से अधिक छात्र देश के टॉप 10 शहरों के बाहर से हैं। और यह इस बात का एक प्रमाण है कि कैसे टेक्नोलॉजी उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षण सामग्री को हर एक जगह के छात्रों के लिए अधिक सुलभ बना सकती है।”

इस बीच आपको बता दें हाल ही में कंपनी ने अपने प्लेटफार्म पर “Learn from home” नामक पहल के तहत सभी छात्रों के लिए मुफ्त लाइव कक्षाओं की भी घोषणा करी थी। इसके तहत Byju’s घरों में ही रहने को मजबूर छात्रों को आवश्यक विषयों के लिए दैनिक लाइव लेक्चर प्रदान करेगा।