कोरोना वायरस (COVID-19) से दुनिया भर की जंग जारी है। और ऐसे में देशों के आगे स्वास्थ्य संसाधनों की आपूर्ति संबंधी चुनौती सबसे बड़ी है।

और शायद इसी चुनौती के चलते हर देश एमरजेंसी के रूप में हर वह कदम उठा रहा है, जो इस वक़्त स्वास्थ्य संबंधी संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित करने में मददगार हो।

और अब इसी श्रृंखला में अमेरिका के दवा (ड्रग) नियामक, US FDA ने एक बार फिर से आपातकालीन मंजूरी के साथ दावा रिसर्च कंपनी Battelle को N-95 मास्क को पुनः उपयोग के लायक बनाने की दिशा में इनको Decontaminate (कीटाणुरहित बनाने की प्रक्रिया) करने की मंजूरी दे दी है।

दरसल Battelle नामक यह कंपनी अपने Critical Care Decontamination Systems (CCDS) का उपयोग कर N-95 मास्कों को पुन: प्रयोग करने लायक बना सकती है, जो इस वक़्त महामारी के कारण इस सबसे उपयोगी स्वास्थ्य/चिकित्सा उपकरण के आभाव को कम करने में मददगार साबित होगा।

इस बीच आपको बता दें Battelle के Ohio स्थित प्लांट में यह सुविधा पहले से ही संचालन में है और यहाँ कंपनी इस सिस्टम का उपयोग कर प्रति दिन 80,000 मास्क तक को कीटाणुरहित कर पुनः उपयोग लायक बनाने का दावा करती है।

आपको बता दें N-95 मास्क असल में डिस्पोजेबल फेस मास्क हैं जो उपयोगकर्ता के नाक और मुंह को पूरी तरह से कवर करके वायरस से बचाव करते हैं। दरसल यह मास्क मौजूदा हालातों में काफी जरूरी और मांग में भी है, जिसके चलते दुनिया भर में इसकी खासी कमी दर्ज की जाने लगी है।

इस बीच Battelle द्वारा विकसित प्रणाली “वाष्प आधारित हाइड्रोजन पेरोक्साइड” का उपयोग कर इन इस्म्तेमल किये जा चुके मास्कों को कीटाणुरहित बनाने का काम करती है। इस तरह से यह इस सिंगल यूज़ मास्क को एक ऐसे मास्क में बदल देता है जिसको 20 बार से अधिक इस्तेमाल (प्रत्येक उपयोग के बाद करीब 2.5 घंटे तक इस प्रक्रिया से गुजारने के बाद) किया जा सकता है।

आपको बता दें Battelle CCDS असल में वाष्प आधारित हाइड्रोजन पेरोक्साइ तकनीक का उपयोग करके N-95 मास्कों को बिना उनकी प्रदर्शन क्षमता को घटाए उपयोग लायक बनाए रखता है।

हालाँकि इसमें कुछ सावधानियां भी बरती जा रहीं हैं, जैसे उपयोग होकर आने वाले मास्क को पुनः उपयोग में लाने लायक बनाने के बाद वहीँ भेजा जाता है, जहाँ से वह पहले कंपनी में भेजे गये थे।

दिलचस्प यह है कि यह प्रक्रिया असल में Ohio के गवर्नर Mike Dwain की आलोचनाओं के मद्देनजर विकसित की गयी थी। हालाँकि शुरुआती प्रतिबंधों के चलते Battelle को प्रति दिन केवल 10,000 मास्क को ही इस प्रक्रिया से पुनः इस्तेमाल लायक बनाने की अनुमति थी।

लेकिन Dwine के एक ट्वीट के माध्यम से राष्ट्रपति ट्रम्प से Battelle पर लगी यह सीमा हटाने की अपील की थी। इसके बाद लेफ्टिनेंट गवर्नर Jon Husted ने ट्वीट करते हुए कहा;

“Ohio स्थित यह सुविधा असल में वर्तमान और भविष्य में अमेरिका में कई जीवन बचाने में योगदान देगी।”

लेकिन हम इतना जरुर बता दें यह जो सिस्टम इस्तेमाल किया जा रहा है, वह कोई नयी तकनीक पर आधारित नहीं है। दरसल इसका प्रयोग अक्सर लैब्स में उपकरणों को Decontaminate (कीटाणुरहित बनाने) करने में किया जाता रहा है।

पर इतना जरुर है कि N-95 मास्कों में इस्तेमाल के लिहाज़ से यह एक नया है। असल में Battelle और FDA ने 2015 में इस सिस्टम पर काम करना शुरू कर दिया था, ताकि आज जैसी किसी महामारी की स्थिति में स्वास्थ्य उउपकरणों की कमी न हो सके।