दुनिया भर में सभी सोशल मीडिया पर सबसे लोकप्रिय नेताओं में शुमार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल सोशल मीडिया में अपने एक ऐलान के साथ सबको चौंका सा दिया।

जी हाँ! दरसल प्रधानमंत्री मोदी जो बड़े पैमाने पर सोशल मीडिया में छाये रहते हैं, ने कहा की अब वह सभी “सोशल मीडिया अकाउंट” छोड़ने पर विचार कर रहें हैं।

प्रधानमंत्री ने सोमवार की शाम को ट्वीट करते हुए कहा;

“इस रविवार तक Facebook, Twitter, Instagram और YouTube समेत मैं अपने सभी सोशल मीडिया अकाउंट्स को बंद करने पर विचार कर रहा हूँ। आप सभी को मैं इसकी जानकारी देता रहूँगा।”

हालाँकि प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट या किसी भी प्रकार से यह नहीं बताया कि उनके इस विचार के पीछे क्या कारण है? लेकिन इतना जरुर है कि इस ट्वीट के बाद से ही उनके समर्थक उनसे ऐसा ना करने का अनुरोध करते नज़र आ रहें हैं।

इस ट्वीट को एक घंटे में ही करीब 40,000 लोगों के कमेंट प्राप्त हुए। वहीँ जब कई मीडिया कंपनियों ने इसके पीछे का कारण जानना चाहा तो इस पर टिप्पणी करने से भाजपा के सोशल मीडिया प्रमुख अमित मालवीय ने साफ़ इनकार कर दिया और लोगों से रविवार तक का इंतजार करने को कहा।

दरसल आज के दौर में सोशल मीडिया एक बड़ी विवादित बहस का हिस्सा बनाता जा रहा है। जहाँ इसके कई लाभ हैं वही अब उससे ज्यादा अफवाहें और नफरत फैलाने जैसी चीज़ों को लेकर इसके नुकसान भी। यहाँ तक की खुद प्रधानमंत्री मोदी पर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म विशेषकर ट्विटर में अभद्र भाषा का प्रसार करने वाले अकाउंट्स को फॉलो करने का आरोप लगता रहा है।

इस बीच जहाँ प्रधानमंत्री ने ऐसी अटकलें जाहिर करते हुए, कारणों पर प्रश्नचिन्ह बने रहने दिया है, वहीँ इतना तय है कि अगर ऐसा होता है तो सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की डिजिटल ताकत काफी कमजोर हो सकती है।

दरसल बीजेपी सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर बहुत सक्रिय रही है, उसने क्रूर राजनीतिक अभियान चलाने के साथ-साथ इन प्लेटफ़ॉर्मो को बड़े पैमाने पर सार्वजनिक पहुँच का जरिया भी बनाया है। पार्टी की सोशल मीडिया मौजूदगी विश्व स्तर पर चर्चा में रहती है, और अगर ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी सोशल मीडिया से विदा लेते हैं, तो इसका पार्टी की डिजिटल छवि पर भारी असर पड़ सकता है।

कारण भी है, दरसल प्रधानमंत्री मोदी राजनीतिक व्यक्ति के तौर पर सोशल मीडिया में सबसे अधिक फॉलो किये जाने वाले शख्स हैं। हमेशा सुर्खियों में रहने की अपनी क्षमता के कारण मोदी के माइक्रोब्लॉगिंग साइट Twitter पर 53.3 मिलियन से अधिक फॉलोअर्स हैं, वहीँ उनके Facebook पेज पर 44 मिलियन से अधिक लाइक हैं, इतना ही नहीं फोटो और वीडियो शेयरिंग ऐप Instagram पर उनके 35.2 मिलियन फॉलोवर्स हैं।

वहीँ आँकड़ो के लिहाज़ से भी आपको बता दें, पिछले लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की जीत का जश्न मनाने वाला उनका ट्वीट साल 2019 में सबसे अधिक री-ट्वीट और लाइक किया गया ट्वीट बनकर सामने आया था और इसे “India’s Golden Tweet of 2019” के रूप में चिन्हित किया गया था।

वैसे एक दिलचस्प बात और भी है, दरसल ऐसी अटकलें हैं कि पीएम मोदी एक नया सोशल मीडिया चैनल या अपना खुद का एक मंच भी लॉन्च कर सकते हैं। और अगर ऐसा होता है तो यकींनन यह देखना और भी दिलचस्प हो जाएगा, और साथ ही यह भी कि प्रधानमंत्री के लिए भला ऐसा करने के क्या मायने हो सकतें हैं?