bounce-lays-off-200-more-employees

आपको शायद याद हो कि अभी हाल में ही दोपहिया किराये में देने की पेशकश करने वाले स्टार्टअप Bounce ने $105 मिलियन का एक बड़ा फंडिंग दौर हासिल किया था।

इसके बाद स्वाभाविक रूप से ऐसा लगा था कि यह स्टार्टअप फ़िलहाल अब कुछ दिनों तक नए फंड की तालश में ना जाये। लेकिन शायद ऐसा सोचना जल्दबाजी थी। दरसल अब सामने आई नई ख़बरों के अनुसार Bounce ने एशिया के प्रमुख निवेशकों में से एक InnoVen Capital से $6.5 की फंडिंग जुटाई है।

वैसे दिलचस्प बात तो यह है कि InnoVen Capital का Bounce में यह तीसरा निवेश है, और इस नए फंड के साथ कंपनी अब तक इस स्टार्टअप में कुल $12 मिलियन का निवेश कर चुकी है।

लेकिन अब इस नए निवेश ने कई और अटकलों को जन्म दे दिया है। असल में अब ऐसा लगने लगा है कि Bounce अभी भी सीरीज-डी दौर के तहत हासिल किये गये $105 मिलियन के निवेश दौर को अभी बंद नहीं करना चाहता है। साल 2019 में ही ऐसी खबरें भी कि यह स्टार्टअप अपने इस सीरीज-डी दौर में कम से कम $150 मिलियन की फंडिंग जुटाना चाहता है। और इसलिए यह $6.5 मिलियन का नया फंड भी कंपनी के सीरीज-डी दौर में ही जुड़ता नज़र आएगा।

इस बीच कंपनी ने इस नई राशि का उपयोग अपने बेड़े में इलेक्ट्रिक वाहनों को जोड़ने को लेकर करने की बात कही है। बता दें ऐसा ही कुछ कंपनी ने अपने पिछले निवेश के दौरान भी कहा था।

2014 में शुरू हुआ यह बैंगलोर स्थित स्टार्ट-अप अब तक 35 शहरों में 23,000 से अधिक दोपहिया वाहनों के बेड़े का संचालन करने का दावा करता है। वहीँ उम्मीद यह भी की जा रही है कि यह नया निवेश इन 35 शहरों के अलावा भी अब कंपनी को अन्य शहरों में अपना विस्तार करने में सहायता प्रदान करेगा।

वैसे इस स्टार्टअप के लिए भारी निवेश हासिल करना कोई नई बात नहीं है। अपनी शुरुआत से अब तक Bounce कई नामी निवेशकों जैसे Accel, Sequoia India, Falcon Edge, Omidyar Network, Vistra ITCL, SCI Investments, InnoVen Capital और Qualcomm Ventures से कुल करीब $200 मिलियन का फंड हासिल कर चुका है।

आपको बता दें कंपनी ने अपने पहले निवेश को लेकर कहा था कि वह काफी जोख़िम भरा दाव था, लेकिन अपने तीन लगातार निवेशों के साथ कंपनी ने काफी अच्छे से अपना प्रसार किया और अब यह बंगलौर में खुद को दोपहिया रेंटल सुविधा देने वाले स्टार्टअप में अग्रणी तौर पर देखता है।

आपको बता दें Bounce को अपने सीरीज-डी दौर में Facebook के सह-संस्थापक Eduardo Saverin द्वारा भी निवेश हासिल हुआ था। साथ ही पिछले ही हफ़्ते पूरे हुए $105 मिलियन के दौर के बाद कंपनी की वैल्यूएशन $500 मिलियन तक बताई जा रही है।

इसके साथ ही यह निवेश कंपनी को भारतीय बाज़ार में अपने प्रतिद्वंदियों जैसे VOGO आदि को कड़ी चुनौती देने में भी मदद करेगा। VOGO फ़िलहाल पिछले कुछ वर्षों में Ola और Bajaj जैसे नामी ब्राडों को अपने निवेशकों की सूची में शामिल करते हुए इनसे क्रमशः $100 मिलियन और $8 मिलियन की निवेश जुटा चुका है।

वहीँ आँकड़ो पर नज़र डालें तो Bounce बेंगलूरु शहर में प्रतिदिन 100,000 सवारी सेवाएं प्रदान करने का दावा करता है। बता दें शहर की सीमा के भीतर, स्कूटर अनिवार्य रूप से दो प्रारूपों में किराए पर लिया जा सकता है। दैनिक यात्रियों के लिए स्टार्टअप डॉकलेस शेयरिंग विकल्प की पेशकश करता है। वहीँ अन्य सेवा प्रति घंटे के किराये के हिसाब से दी जाती है।

वैसे अपनी सेवा के कई विकल्पों के चलते यह कंपनी मौजूदा 35 शहरों में अपने परिचालन के साथ ही अन्य शहरों के लिए भी एक बेहतर विकल्प बन सकती है। बता दें इन सेवाओं के अलावा बैंगलोर आधारित यह स्टार्ट-अप Zuink Smart Mobility Solutions नामक एक इलेक्ट्रिक वाहन इकाई की भी पेशकश करता है।