लीजिये! सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए भारतीय मूल के Microsoft के सीईओ सत्या नडेला आखिरकार भारत दौरे में आ चुकें हैं।

आपको बता दें अपने इस तीन दिवसीय दौरे के दौरान सत्या नडेला Microsoft के भारतीय अर्थव्यस्था को मजबूत की दिशा में किये जा रहे काम को दर्शाना चाहेंगें। वैसे इसकी शुरुआत उन्होंने अपनी एक प्रमुख घोषणा के साथ देश में आते ही कर भी दी।

जी हाँ! दरसल Microsoft ने आज भारत में B2B (बिज़नेस टू बिज़नेस) स्टार्टअप्स को एक सौगात देते हुए अपने नए ‘100x100x100’ नामक प्रोग्राम को पेश किया है।

यह काफ़ी दिलचस्प है, क्यूँकि इस प्रोग्राम के तहत Microsoft करीब 100 से अधिक प्रोग्राम के प्रति प्रतिबद्ध कंपनियों और 100 शुरुआती स्तर के स्टार्टअप्स को एक ही मंच में लाने का काम करेगी।

और इतना ही नहीं इस प्रोग्राम में भाग लेने वाली कंपनी असल में SaaS स्टार्टअप द्वारा प्रदान किए गए समाधानों पर 18 महीने के दौरान $100K खर्च करने के लिए प्रतिबद्ध होगी। आपको बता दें इसके लॉन्च के दौरान ही करीब 50 से अधिक स्टार्टअप इस प्रोग्राम का हिस्सा बन चुकें हैं।

दरसल Microsoft पारंपरिक और आधुनिक उद्यमों को एक डिजिटल अर्थव्यवस्था से जोड़ने की व्यापक संभवनाओं का फ़ायदा उठाना चाहता है। जरा आप गौर कीजिए, इस प्रोग्राम में एक तरफ जहाँ स्टार्टअप्स अपने प्रोडक्ट इत्यादि के लिए काफी बड़े और प्रतिष्ठित क्लाइंट मिल पायेंगें वहीँ इन बड़ी कंपनियों को भी इन स्टार्टअप्स के बेमिसाल डिजिटल समाधानों का उपयोग करते हुए, दुनिया भर में तेजी से हो रहे डिजिटल परिवर्तन को अपनाने में मदद मिलेगी।

इतना ही नहीं Microsoft यह भी सुनिश्चित करेगा कि इस नए प्लेटफ़ॉर्म पर एक प्रमाणित ट्रैक रिकॉर्ड के साथ इससे जुड़े स्टार्टअप्स, विभिन्न प्रकार से क्यूरेटेड, और बड़ी इंडस्ट्री ग्रेड के डिजिटल समाधानों को उपलब्ध करवाएं।

इस बीच Microsoft India के अध्यक्ष अनंत माहेश्वरी ने इस अनूठी पहल के बारे में और भी जानकारी साझा करते हुए कहा;

“यह पहल न सिर्फ़ इन स्टार्टअप को आगे बढ़ने में मदद करेगी बल्कि इसके साथ यह इन स्टार्टअप्स को और भी बेमिसाल इंडस्ट्री समाधानों के साथ आगे आने के लिए प्रेरित भी करेगी।”

“वहीँ बड़ी कंपनियों को भी तेजी से इन डिजिटल समाधानों का लाभ उठाते हुए आधुनिक परिवर्तनों के दौर में अपडेटेड रह सकेंगीं। और हम भी इन साझेदारियों के जरिये सामने आने वाले परिणामों को देखने के लिए काफी उत्साहित हैं।”

वैसे इसका एक और दिलचस्प पहलु यह भी है कि Microsoft India की इस पहल में Microsoft से जुड़ें स्टार्टप्स ही इस प्रोग्राम में भागीदारी कर सकतें हैं। इस प्रोग्राम के तहत इन स्टार्टअप्स के पास Microsoft इंडस्ट्री और कस्टमर इवेंट्स के जरिये संभावित ग्राहकों तक पहुँचने का भी मौका होगा।

आपको बता दें इस प्रोग्राम में दिल्ली और मुंबई के Chapters of The Indus Entrepreneurs (TiE) सहित अन्य इंडस्ट्री साझेदारों का भी सहयोग लिया गया है।

दरसल भारत के स्टार्टअप जगत की बात आते ही Microsoft हमेह्सा से ही काफ़ी सक्रीय सा दिखाई डेटा रहा रहा है।

कंपनी अपने Microsoft for Startups प्रोग्राम के तहत शुरुआती स्तर के B2B स्टार्टअप्स को Microsoft Azure मार्केटप्लेस, एंटरप्राइज सेल्स टीम और तेजी से बढ़ते पार्टनर इकोसिस्टम का लाभ उठाने की भी अनुमति देती है।

इतना ही नहीं बल्कि इस पहल के तहत Microsoft ScaleUp प्रोग्राम को भी सीरीज A-C स्टार्टअप के लिहाज़ से तैयार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.