अमेरिका आधारित इंटरनेट डोमेन रजिस्ट्रार और वेब होस्टिंग कंपनी, GoDaddy अब भारत में अपने स्थानीय ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए देश में डेटा सेंटर खोलने की योजना बना रही है।

आपको बता दें फ़िलहाल कंपनी का डेटा सेंटर सिंगापुर में स्थित हैं। दरसल GoDaddy India ने मैनेजिंग डायरेक्टर, निखिल अरोड़ा ने कहा;

“हम भारत में ग्राहकों के लिए एक डेटा सेंटर खोलने पर विचार कर रहें हैं, ताकि हमारी सेवाओं पर ग्राहकों का भरोसा बढ़ सके।”

दरसल कंपनी के नए ग्राहकों में से लगभग 50% टियर 2 और टियर 3 शहरों से आ रहें हैं, और ऐसे में कंपनी यह समझ चुकी है कि भारतीय स्थानीय ग्राहकों को भरोसेमंद सेवाओं की पेशकश करने से वह इन शहरों में और भी अच्छी पकड़ बना सकती है।

निखिल अरोड़ा के मुताबिक;

“कंपनी भरोसेमंद प्रोफेशनल और इन्फ्लूइंसर की तर्ज पर वेब डिज़ाइनरों के साथ पार्टनरशिप करने की योजना बना रही है, एक वेब डिजाइनर के पास औसतन 20 से 30 क्लाइंट होते हैं।”

दरसल कंपनी की योजना आने वाले सालों में भारत के टियर 2-3 क्षेत्रों में आक्रामक तौर पर प्रवेश करने की है और इसके जरिये कंपनी अपने प्लेटफ़ॉर्म पर ज्यादा से ज्यादा छोटे व्यवसायों और उद्यमियों के साथ ही साथ वेब डिज़ाइनरों जैसे पेशेवरों को भी जोड़ने का प्रयास करेगी।

आपको बता दें GoDaddy के भारतीय व्यापार का लाभ पिछले तीन वर्षों में दोगुना हो गया है और कंपनी स्थानीय स्तर पर 1,000 कर्मचारियों के होने का दावा करती है।

वर्तमान में कंपनी के पास भारत के राष्ट्रीय इंटरनेट एक्सचेंज के अनुसार .IN डोमेन में 40% से अधिक बाजार हिस्सेदारी है और साथ ही इसके पास एक मिलियन से अधिक ग्राहक हैं।

दरसल बीते कुछ समय में भारत में कुछ राज्यों में साइबर पुलिस ने लगातार साइबर अपराध में शामिल व्यक्तियों और कंपनियों की जानकारी के लिए GoDaddy जैसी बड़ी इंटरनेट कंपनियों से जानकारी प्राप्त करने में देरी पर चिंता जाहिर की हैं।

लेकिन इस बीच डेटा सुरक्षा पर कंपनी का पक्ष रखते हुए निखिल अरोड़ा ने कहा,

“डेटा सुरक्षा, और प्राइवेसी हमारे लिए सबसे अहम मुद्दे हैं, और हमने हमेशा से सुरक्षा उपायों को गंभीरता से लिया है, और हम अपने सभी फैसलों में इसका अहम ध्यान रखते हैं।”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *