OYO पिछले कुछ वर्षों में लगातार अपने वैश्विक प्रसार के चलते सुर्खियाँ बटोरता रहा है, हालाँकि इन्हीं सालों में OYO कई बार कुछ गंभीर आरोपों के चलते भी सुर्ख़ियों में बना रहा है।

लेकीन अब एक बार फ़िर से जिन वजहों से OYO ख़बरों में है, उन्हें अच्छा तो नहीं कहा जा सकता है। दरसल जैसा कि हम आपको पहले भी बता चुकें हैं, OYO जल्द ही देश में अपने हजारों कर्मचारियों की छटनी कर सकता है।

जी हाँ! दरसल कई मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, कंपनी चीन और भारत में अपने हजारों कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाने की तैयारी कर रही है।

हम आपको पहले भी बता चुकें हैं कि सूत्रों के अनुसार कंपनी जनवरी 2020 के अंत तक अपने 2000 कर्मचारियों की छंटनी कर सकती है। दरसल यह प्रक्रिया कंपनी के ऑपरेशन को और अधिक ‘टेक्नोलॉजी आधारित’ बनाते हुए, मैन्युअल कार्य पर निर्भरता को कम करने के लिए की जा रही है।

वहीँ अगर पिछली रिपोर्टों पर विश्वास करें तो, अधिकांश छंटनी बिक्री, आपूर्ति और संचालन विभागों में देखे जाने की संभावना है। हालांकि यह स्पष्ट कर दें कि कंपनी ने अभी तक इसकी कोई अधिकारिक पुष्टि नहीं की है।

लेकिन यह OYO के लिए अकेली मुसीबत नहीं है। दरसल भारत के बाद अब चीन में भी कंपनी के होटल भागीदारों ने OYO ऑफिस के सामने विरोध प्रदर्शन करते हुए कंपनी पर समझौते की शर्तों के उल्लंघन का आरोप लगाया है।

यह विरोध अधिकांश रूप से भारत में होटल मालिकों के विरोध की ही तरह है। वहीँ इस विषय पर कंपनी की ओर से कहा गया है कि वह होटल मालिकों के साथ बात करके उनका विश्वास जीतने की कोशिश करेगी।

कंपनी के अनुसार;

“कंपनी VIP Owner प्रोग्राम लॉन्च करेगी और यह सुनिश्चित करेगी कि होटल मालिकों से नियमित रूप से बातचीत होती रहे और उनके हितों और जरूरतों का बराबर ध्यान रखा जाए।”

इस बीच इसमें कोई संदेह नहीं है कि कंपनी पिछले कुछ वर्षों में काफी तेजी से बढ़ते नज़र आई है, लेकिन उसके साथ ही हर साल इसके नुकसान आँकड़े में भी इजाफ़ा हो रहा है। 2019 में यह आँकड़ा छह गुना बढ़कर 2,384 करोड़ रुपये तक पहुँच गया है।

पिछले साल नवंबर तक में 100 शहरों के लगभग 500 होटलों ने कंपनी से भागीदारी तोड़ने का ऐलान कर दिया था। लेकिन इसके उलट, OYO ने इन रिपोर्ट्स को खारिच करते हुए यह दावा किया था कि उसके भागीदारों की संख्या में बढौतरी हो रही है।

इतना जरुर है कि कंपनी की बढ़त के लिए इसके प्रमुख निवेशक Softbank को क्रेडिट देना चाहिए। Softbank अब तक कंपनी में कुल लगभग $1.5 बिलियन का निवेश करते हुए कंपनी की वैल्यूएशन को $10 बिलियन तक पहुँचा चुका है।

आपको बता दें कंपनी के निवेशकों में Airbnb, Sequoia Capital और Lightspeed Venture Partners जैसे नाम भी शामिल हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *