fantasy-cricket-startup-dream11-dream-sports-raises-rs-6248-cr

इस बात में कोई शक नहीं है कि भारतीय डिजिटल स्पोर्ट्स स्ट्रीमिंग बाज़ार काफी रोमांचक और आकर्षक क्षेत्र रहा है। दरसल इस क्षेत्र ने भारतीय कंपनियों को वित्तीय और उपभोक्ता संख्या दोनों पैमानों पर अक्सर अच्छे आँकड़े ही प्रदान किये हैं।

और भारत में खासतौर पर क्रिकेट के खेल की लोकप्रियता के चलते इनमें से कई कंपनियां बड़े पैमाने पर मोटा लाभ कमा रही हैं।

इसका अंदाज़ा आप ऐसे भी लगा सकतें हैं कि करीब $7 बिलियन+ की वैल्यूएशन वाले आईपीएल (IPL) के लिए स्ट्रीमिंग राइट्स 2018 में रिकॉर्ड $2.1 बिलियन में बेचे गये थे। और साथ ही इसके लिए बोली का आँकड़ा इसलिए भी बढ़ गया था क्यूंकि बोली लगाने वालों में Facebook, Twitter, Google, Disney के मालिकाना हक़ वाला STAR जैसे बड़े नाम शामिल थे।

और अब इसी बाज़ार की संभवनाओं को देखते हुए Tencent समर्थित भारतीय फंटेसी स्पोर्ट्स गेमिंग यूनिकॉर्न Dream11 भी इसमें प्रवेश करने जा रहा है।

जी हाँ! कंपनी के कॉर्पोरेट दस्तावेजों में दर्ज किये गये बदलाव के अनुसार Dream11 की पैरेंट कंपनी ने “स्पोर्ट्स की डिजिटल स्ट्रीमिंग के साथ-साथ खेलों के आयोजन और टिकटिंग” संबंधी कार्यों को भी जोड़ा है।

बता दें Paper.vc के माध्यम से सामने आई इस खबर पर अभी तक कंपनी की ओर से कोई भी अधिकारिक मुहर नहीं लगाई गई है। दायर किये गये नियामक दस्तावेजों के अनुसार इसकी संभवानाएं काफी प्रबल हो जाती हैं।

हालाँकि इसमें हैरान जैसे होने वाली कोई बात नहीं है, क्यूंकि वर्तमान में अपने प्लेटफ़ॉर्म पर 70 मिलियन से अधिक पंजीकृत उपयोगकर्ता होने का दावा करने वाली Dream11 के लिए एक न एक दिन पैसों से भरे इस स्पोर्ट्स स्ट्रीमिंग बाज़ार में प्रवेश करना तय ही माना जा रहा था।

लेकिन यह भी जरुर है कि Disney के मालिकाना हक़ वाले Hotstar जैसे प्लेटफ़ॉर्म Dream11 को इस बाज़ार में भी आसानी से पकड़ बनाने नहीं देंगें। आपको बता दें एक दावे के अनुसार Hotstar के पास 150 मिलियन से अधिक सक्रिय मासिक उपयोगकर्ताओं का आधार है।

इसके साथ ही देश में क्रिकेट मैचों के लिए टिकट सेवा वाले तमाम प्लेटफ़ॉर्म हैं, और साथ ही कई IPL टीमें भी अपने अपने प्लेटफ़ॉर्म के जरिये टिकट सेवाएं प्रदान करती हैं। लेकिन इनमें से कोई भी प्लेटफ़ॉर्म ग्राहकों को अधिक आकर्षक दामों में टिकट मुहैया करवाने का दावा नहीं करता है।

वहीँ एक स्टार्टअप के रूप में  Dream11 ने पिछले साल अप्रैल में ही $1 बिलियन वैल्यूएशन के आँकड़े को छू लिया था।

उसी वक़्त कंपनी की ओर से यह भी बयान आया था कि Steadview Capital ने कंपनी के मौजूदा निवेशक Kalaari Capital से एक अज्ञात राशि पर कुछ शेयर ख़रीदे हैं। लेकिन इकोनॉमिक टाइम्स ने उस वक़्त बताया था कि यह सौदा लगभग $60 मिलियन का था और इसकी वजह से ही Dream11 की वैल्यूएशन $1 – $1.5 बिलियन के आसपास हो गई है।

इस बीच भारत में क्रिकेट और ख़ासकर IPL की बढ़ती लोकप्रियता का भी अहम फायदा Dream11 को हुआ है। और इसी के चलते फ़िलहाल भी प्लेटफ़ॉर्म खुद को मुख्यतः क्रिकेट केंद्रित मंच के रूप में ही प्रस्तुत करता है और विश्व स्तर पर इसके आधिकारिक सौदों का 80% से अधिक क्रिकेट लीग इत्यादि से ही जुड़ा होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.