रिसर्च फर्म TechArc के एक पूर्वानुमान के अनुसार, 2020 में भारत द्वारा ‘कनेक्टेड कंज्यूमर डिवाइस मार्केट’ में 3,24,960 लाख करोड़ रुपये के उपकरण बेचकर 11% वृद्धि दर्ज की जाएगी।

TechArc के संस्थापक और मुख्य विश्लेषक, Faisal Kawoosa के अनुसार;

“भारत में उपयोगकर्ता स्मार्टफोन कनेक्टिविटी की ओर आगे बढ़ रहे हैं और इसके चलते अन्य भी कई समाधानों और डिवाइसों को लेकर देश आगे बढ़ता नज़र आ रहा है। ऐसे में जहाँ एक ओर उपयोगकर्ता ‘स्मार्ट’ बन रहें हैं उसी के साथ ही साथ उपकरणों की मांग में भी तेजी से वृद्धि हो रही है।”

“दरसल मुख्य रूप से स्मार्टफोन के चलते इससे जुडें कनेक्टेड डिवाइसों का एक क्लस्टर बनता चला गया है। कनेक्टेड डिवाइसों के इस हब में स्मार्ट टीवी और स्मार्ट स्पीकर सबसे आगे नज़र आते हैं।”

दरसल रिसर्च फर्म का मानना है कि भारत लगातार स्मार्टफोन के दामों और बिक्री के मामलें में अग्रामी बना रहेगा।

हालांकि इस बीच स्मार्टफोन हेतु सामान्य वृद्धि के अनुमान के साथ डिवाइस निर्माता अब इस क्षेत्र में उन ख़ाली जगहों को तलाशने लगे हैं, जहाँ अभी भी संभवनाओं की भरमार है और साथ ही उत्पादों की कमी भी।

हालाँकि ऐसे ही एक ख़ाली स्थान को लेकर TechArc ने भी कुछ अनुमान जाहिर किये हैं, दरसल कंपनी के अनुसार स्मार्ट वियरेबल्स वह स्थान साबित हो सकतें हैं जहाँ निर्माता अपना ध्यान दें।

दरसल हाल ही में इस श्रेणी में न सिर्फ़ Apple जैसे बड़ी कंपनी बल्कि अन्य भी कई कंपनियों ने अल्ट्रा-ग्रोथ दर्ज की है।

आपको बता दें Realme ने भी हाल ही में अपने ऐसे ही डिवाइस पेश किये हैं। इसके साथ  ही स्मार्ट स्पीकर की बिक्री में भी काफी वृद्धि दर्ज की गई है।

Amazon के Alexa जैसे उत्पादों ने वॉयस कंप्यूटिंग बाजार के अवसरों के भी संभवनाओं को जन्म देते हुए, इसमें विस्तार का रास्ता साफ़ किया है।

वहीँ इस बीच रिसर्च फर्म का मानना है कि Tablet PC और Smart Feature फ़ोन दो ऐसे श्रेणियां हैं जो 2020 में बिक्री के लिहाज़ से गिरावट दर्ज करती नज़र आयेंगी।

इसके साथ ही हमें यह बात भी ध्यान में रखनी चाहिए कि इन कनेक्टेड डिवाइसों की भारी बिक्री के पीछे कहीं न कहीं प्रत्यक्ष तौर पर देश में तेजी से होता इंटरनेट का विस्तार भी एक बड़ी वजह है। और इसमें Jio की भूमिका भी बेहद अहम हो जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.