Intel तकनीकी कंपनियों का अधिग्रहण जारी रखे हुए है। और अब इसी श्रृंखला में इस अमेरिकी चिपमेकर ने कल घोषणा की है कि Intel इजरायल आधारित एआई चिपमेकर Habana Labs का $2 बिलियन में अधिग्रहण करने जा रहा है।

आपको बता दें मुख्य तौर पर Habana Labs डेटा सेंटरों के लिए प्रोग्रामेबल डीप लर्निंग एक्सेलेरेटर वाले डेवलपर के रूप में अपना संचालन करता है।

इस बीच अधिग्रहण के बारे में बात करते हुए Intel के डेटा प्लेटफ़ॉर्म ग्रुप के कार्यकारी उपाध्यक्ष, Navin Shenoy ने कहा,

“यह अधिग्रहण हमारी AI रणनीति को आगे बढ़ाने में मदद करता नज़र आएगा। जिसके जरिये हम ग्राहकों को उनकी जरूरतों के लिए एक बेहतर समाधान दे सकेंगें।” 

“Habana हमारे डेटा-सेंटर के लिए AI सोल्यूशन के नजरिये से कई अहम जरूरतों को पूरा करेगा, और साथ ही एक एआई वर्कलोड को विकसित करने के लिए नए प्रोग्रामिंग वातावरण के निर्माण में भी मदद करेगा।” 

इस बीच जानकारों के अनुसार Intel के लिए यह अधिग्रहण AI क्षेत्र में कंपनी को और आगे खड़ा करता नज़र आएगा। दरसल एक सच यह भी है कि कंपनी मोबाइल क्षेत्र में Qualcomm के चलते पूरी तरह से चुक सी गई है।

हालाँकि लैपटॉप/डेस्कटॉप क्षेत्र में Intel के प्रभुत्व के बावजूद कंपनी को प्रतिद्वंदियों से काफी टक्कर मिल रही है।

लेकिन जब एआई आधारित चिपमेकिंग की बात आती है, तो Intel स्पष्ट रूप से कंपनियों का अधिग्रहण करके इस प्रतियोगिता है आगे रहना चाहती है।

दिलचस्प रूप से 2019 में Intel को सिर्फ़ एआई-चलित राजस्व के रूप में ही $3.5 बिलियन से अधिक की कमाई की उम्मीद है। और यह कंपनी के लिए इस क्षेत्र में राजस्व को लेकर 20% तक की बढ़त दर्ज कराती नज़र आयेंगी।

इसके साथ ही कंपनी को लगता है कि Habana के जरिये Intel अपने ग्राहकों की उभरती जरूरतों के लिए डेटा सेंटरों के माध्यम से एआई उत्पादों की डिलीवरी में तेजी ला पायेगा।

हालाँकि इस अधिग्रहण के बाद भी Habana एक स्वतंत्र बिज़नेस यूनिट के तौर पर काम करेगी और मौजूदा प्रबंधन टीम ही इसका नेतृत्व करेगी।

वहीँ Habana अब से Intel के Data Platforms Group रिपोर्ट करेगा। इसके जरिये Intel का मकसद मुख्य तौर पर और नई एआई क्षमताओं के लिए Habana तक पहुँच पाने क़ा है, जिसके पास एआई सॉफ्टवेयर, एल्गोरिदम और रिसर्च क्षेत्र में पिछले तीन वर्षों का व्यापक अनुभव है।

साथ ही आपको यह भी बता दें कि Habana के चेयरमैन vigdor Willenz ने इस बिजनेस यूनिट के साथ-साथ Intel में भी बतौर वरिष्ठ सलाहकार अपनी सेवाएं देने को लेकर सहमति व्यक्त की है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.