भारत के सबसे मूल्यवान और प्रतिष्ठित टेक कंपनियों में से एक, Byju’s ने खुलासा किया है कि कंपनी ने इस वित्त वर्ष 2019 में राजस्व में लाभ कमाया है।

जी हाँ! कंपनी ने इस साल के मार्च में समाप्त हुए वित्तीय वर्ष तक $188.8 मिलियन के राजस्व में $2.8 मिलियन का शुद्ध लाभ कमाया है।

इस मौके पर Byju’s की मुख्य रणनीति अधिकारी अनीता किशोर ने स्पष्ट किया है कि स्टार्टअप ने अपने शुद्ध लाभ में टैक्स और अन्य खर्चों को शामिल किया है।

कंपनी द्वारा बताए गये वित्तीय विवरण में यह भी जाहिर किया गया है कि पिछली बार की तुलना में कंपनी का राजस्व $73.2 मिलियन से बढ़कर $208 मिलियन हो गया है।

आपको बता दें मार्च 2018 में समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में कंपनी ने $69 मिलियन के राजस्व पर $4 मिलियन का शुद्ध घाटा दर्ज किया था।

लेकिन इस साल लाभ कमाने के बाद अब कंपनी मार्च 2020 में अपने राजस्व के आँकड़े को दोगुना कर $422 मिलियन तक ले जाने का दावा कर रही है।

आपको बता दें अब तक कंपनी कुल $925 मिलियन का फंड जुटा चुकी है, और इस साल के शुरू में कंपनी की वैल्यूएशन $5.75 बिलियन थी।

वैसे तो आपको शायद पता ही होगा कि Byju’s एक ऑनलाइन शिक्षण मंच है, जो स्कूल जाने वाली उम्र वाले बच्चों को अपने स्वयं के ऐप्स के माध्यम से विषयों को समझने में मदद करता है, या कहें तो उनके लिए एक ऑनलाइन ट्यूटर की भूमिका निभाता है।

कंपनी का यह भी दावा है कि अब इसके पास 2.8 मिलियन पेड कस्टमर हैं और वहीँ प्लेटफॉर्म पर 40 मिलियन के करीब रजिस्टर्ड यूजर्स भी हैं।

वैसे देखा जाए तो कंपनी की वित्तीय स्थिति में सुधार तब आया है जब कंपनी ने छात्रों को सब्सक्रिप्शन विकल्प देना शुरू किया।

हालांकि आपको बता दें कई लोग द्वारा ग्राहक साइन-अप बढ़ाने की कंपनी की रणनीति की समय समय पर आलोचना होती रही है।

 दरसल Byju’s अपनी सेल के बढ़ाने के लिए कर्मचारियों की एक पूरी आर्मी तैनात रखता है। इसके साथ ही कंपनी कंज्यूमर फाइनेंस जैसी सेवाओं की भी पेशकश करती है, जिसके चलते अभिभावकों के सामने से पैसों की बाधा को हटा कर उन्हें जानबूझकर बकाएदारों में बदल जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *