देश ही नहीं दुनिया की सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप WhatsApp अब अपनी Bulk मैसेजिंग सेवाओं में स्पैम जैसी शिकायतों का काफ़ी बड़ी मात्रा में सामना कर रही है।

और इसलिए अब कंपनी ने इस पर रोक लगाने के लिए अपनी गंभीरता को जाहिर करते हुए अपनी इस Bulk मैसेजिंग सेवाओं का दुरूपयोग करने वाले व्यवसायों के खिलाफ़ क़ानूनी कार्यवाई करने का फ़ैसला किया है। 

जी हाँ! दरसल कंपनी ने कहा है कि वह अपने प्लेटफॉर्म पर ऑटोमेटिक या Bulk मैसेजिंग का दुरुपयोग करने वाले व्यवसायों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेगी।

इस बीच आपको बता दें यह निर्णय WhatsApp Business को लेकर लिया गया है, इसके दायरे में मूल WhatsApp ऐप नहीं होगा।

दरसल आपको बता दें व्यवसायों के लिए कंपनी दो ऐप्स का संचालन करती है, जिनमें से एक है WhatsApp Business ऐप और दूसरा WhatsApp Business API है।

इन दोनों ऐप्स पर व्यवसायों को सहूलियत देने के लिए Bulk और ऑटोमेटिक मैसेजिंग की सेवा भी प्रदान की गई है।

और अब कंपनी ने इन ऐप्स को लेकर अपनी भूमिका साफ करते हुए कहा कि यह Bulk और ऑटोमेटिक मैसेजिंग फीचर्स बिज़नेसों की मदद के लिए प्रदान किया गया है न कि इसके जरिये स्पैमिंग को बढ़ावा देने के लिए।

कंपनी के अनुसार इन दोनों ऐप्स पर अक्सर इन सेवा की शर्तों का उल्लंघन होते हुए पाया गया है। और अब इसी के चलते Facebook के मालिकाना हक़ वाली कंपनी WhatsApp ने कहा है कि 

“कंपनी अब उन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेगी जो जो हमारे Bulk और ऑटोमेटिक मैसेजिंग फीचर्स का दुरूपयोग करते हैं। इसके साथ ही कंपनी ऐसे सेवा प्रदातों पर भी कार्यवाई करेगी जो WhatsApp की सेवाओं के दुरूपयोग को बढ़ावा देते हैं या अपने क्लाइंट्स इत्यादि को ऐसा करने के लिए प्रेरित करते हैं।”

हालाँकि इस स्तर पर आने के बाद एक इंस्टेंट मैसेजिंग प्लेटफ़ॉर्म के लिहाज़ से सेवाओं का ऐसा दुरुपयोग काफी सामान्य बन जाता है।

लेकिन ऐसा नहीं है कि कंपनी इसको रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठा रही हैं। दरसल WhatsApp का दावा है कि वह Bulk और ऑटोमेटिक मैसेजिंग फीचर्स के दुरूपयोग को रोकने के लिए हर महीनें करीब 2 मिलियन से अधिक अकाउंट्स को बैन करती है।

इसके साथ ही WhatsApp का यह भी दावा है कि कंपनी ऐसे व्यक्तियों या कंपनियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी करती रही है, जिनके खिलाफ़ इस तरह के व्यापक दुरुपयोग के ऑन-प्लेटफ़ॉर्म सबूत मौजूद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.