एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी के मालिकाना हक़ वाली Reliance Industries ने भारतीय स्टार्टअप NowFloats में 85% की हिस्सेदारी खरीदी है।

आपको बता दें NowFloats नामक इस स्टार्टअप का लक्ष्य नए व्यवसायों को वेब स्किल के बिना अपनी ऑनलाइन मौजूदगी दर्ज करवाने में मदद करना है।

दरसल Reliance ने $20 मिलियन में Reliance Strategic Business Ventures Limited के जरिये इस स्टार्टअप में करीब 85% की हिस्सेदारी हासिल करते हुए इसका अधिग्रहण किया है।

आपको बता दें NowFloats असल में एक हैदराबाद आधारित प्लेटफ़ॉर्म है जो नए व्यवसायों को बिना किसी परेशानी के ऑनलाइन उपस्थिति बनाने में मदद करता है।

NowFloats की मदद से किसी भी छोटे स्तर के व्यवसाय को आसानी से एक वेबसाइट हासिल हो सकती है, और वह अपने ग्राहकों के साथ WhatsApp पर जुड़कर, खुद की डिजिटल उपस्थिति का एक पूरा नेटवर्क बना सकता है।

इस बीच आपको बता दें कि इस निवेश से पहले इस स्टार्टअप ने अन्य फंडिंग राउंड में लगभग $12 मिलियन जुटाए हैं। साथ ही यह कंपनी अब तक 300,000 से अधिक खुदरा पार्टनर्स को सेवा प्रदान करने का दावा भी करती है।

दिलचस्प यह है कि NowFloats ने पिछले साल ही LookUp नामक एक चैट सेवा प्रदाता स्टार्टअप का अधिग्रहण किया था, जो उपभोक्ताओं को स्थानीय लोगों से संपर्क स्थापित करने में मदद करता है।

आपको बता दें NowFloats फ़िलहाल दो प्रोडक्ट की पेशकश करता है। जहाँ छोटे और मध्यम व्यवसायों के लिए Boost360 नामक एक डिजिटल प्रोडक्ट उन्हें 360 डिग्री सूट प्रदान करता है। वहीँ कंपनी के पास एक एडवांस टेक्नोलॉजी आधारित Kistue नामक भी सूट है, जो बड़े व्यवसायों के लिए उचित बताया जाता है।

बता दें, Kitsue किसी भी तरह के सर्वर रहित / क्लाउड-आधारित एप्लिकेशन के निर्माण के लिए एक सरल HTML आधारित सिंटैक्स प्रदान करके डेवलपर्स का काम आसान बनाने में उनकी मदद करता है।

इसके साथ ही खास यह है कि अगर Reliance के द्वारा तय किये गये कुछ लक्ष्यों पर यह स्टार्टअप खरा उतरता है, तो Reliance की योजना अगले साल तक इस स्टार्टअप में कुल 89.66% की हिस्सेदारी हासिल कर $10.6 मिलियन का अतिरिक्त निवेश देने की भी है।

देखा जाए तो यह अधिग्रहण Reliance की सभी डिजिटल व्यापार रणनीति के लिहाज़ से भी काफी बेहतर नज़र आता है। क्यूंकि ऐसा माना जा रहा है कि कंपनी एक पूर्ण ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के लॉन्च के लिए तैयारी कर रही है, जो Flipkart और Amazon की तर्ज पर काफी बड़े आकार के साथ लांच किया जाएगा।

दरसल Reliance इस बात को अच्छे से समझ चुका है कि भारत छोटे उद्योगों के लिए एक बड़ा बाजार है। और देश भर में लाखों लोग छोटे पैमाने पर अपना व्यवसाय करते हैं।

इनमें से कई पिछले कुछ वर्षों में ऑनलाइन हो गए हैं, जिसका बेशक काफी श्रेय सस्ते दरों के चलते Reliance Jio के लोकप्रियता की लहर को भी जाता है।

लेकिन इतना जरुर है कि इस व्यापक बाज़ार का एक बड़ा हिस्सा अभी भी ऑनलाइन नहीं आ सका है और Reliance मुख्यतः ऐसे ही व्यवसायों को टारगेट करने की कोशिश कर रहा है। बस देखना यह है कि इन कोशिशों से संबंधित बड़े पत्ते Reliance कब तक सबके सामने पेश करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *