कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार Foxconn ने एक बार फ़िर से चेन्नई में Nokia Telecom SEZ के अंदर अपने कारखाने में स्मार्टफोन के प्रोडक्शन का काम शुरू कर दिया है।

आपको बता दें 2014 के अंत में लोकप्रिय फ़ोन ब्रांड Nokia द्वारा फ़ोनों के निर्माण को बंद करने के बाद ही Foxconn के इस कारखाने को भी बंद कर दिया गया था।

इस बीच तमिलनाडु में एक शीर्ष सरकारी अधिकारी ने कहा कि फ़िर से प्रोडक्शन की टेस्टिंग शुरू हो गयी है और यह प्रोडक्शन 2019 ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट (GIM) MoU का ही एक हिस्सा है। अधिकारी के अनुसार Foxconn ने सरकार के साथ इस सन्दर्भ में 2,500 करोड़ रुपये के निवेश का वादा भी किया था।

राज्य सरकार द्वारा एक प्रेस रिलीज़ के अनुसार;

“FIH Developers असल में Foxconn Group का ही एक हिस्सा हैं। इन्होनें सरकार के साथ कंपोनेंट के निर्माण का विस्तार करने के लिए एक MoU पर साईन किया था, जिसके तहत करीब 20,000 नौकरियों के निर्माण का भी अनुमान है।” 

दिलचस्प यह है कि यह खबर ऐसे वक़्त में आई है जब Nokia Telecom Special Economic Zone वापस से अपना दबदबा बनाने के प्रयास कर रहा है।

आपको बता दें 2014 में Nokia के बाज़ार से जाने के बाद भारत में Oppo और Xiaomi जैसी ब्रांड्स का दबदबा नज़र आया और वह आज भी काफी हद तक बरक़रार है।

हालाँकि इन ब्रांड्स ने भी देश में अपने फ़ोनों के निर्माण के लिए Foxconn को ही चुना और जिसके चलते Foxconn ने आंध्र प्रदेश के श्री नगर औद्योगिक क्लस्टर में अपनी नई मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की शुरुआत की।

हालाँकि खास यह है कि HMD Global द्वारा वापस से Foxconn को ही Nokia स्मार्टफोनों के निर्माण की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इतना ही नहीं कंपनी Apple के फ़ोनों का भी निर्माण करती है।

इस बीच अपनी 2019 की वार्षिक रिपोर्ट में Foxconn ने भारत के टियर 1 और टियर 2 शहरों में बढ़ते इंटरनेट कवरेज के चलते देश में स्मार्टफोन की माँग में तेजी से बढ़त का अनुमान लगाया है। 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *