देश में ई-कॉमर्स में हाल ही में काफी उथल पुथल दिखी, और जिसका मुख्य कारण रहा ऑफलाइन विक्रेता समूहों की ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्मो के प्रति गहरी नाराजगी।

इसके चलते देश की सरकार ने ई-कॉमर्स क्षेत्र के नियमों में संशोधन और कड़े कदम उठाने के भी संकेत दिए हैं। हालाँकि इसी बीच ई-कॉमर्स के संदर्भ में देश के भीतर नियामक स्थिरता (Regulatory Stability) की उम्मीद जताते हुए देश और दुनिया के सबसे लोकप्रिय ई-कॉमर्स प्लेटफ़ॉर्म Amazon के फाउंडर और सीईओ, Jeff Bezos ने एक बड़ा बयान दिया है।

दरसल Jeff के मुताबिक Amazon भारत में काफी अच्छा प्रदर्शन कर रही है और उन्हें उम्मीद हैं कि जल्द ही देश के भीतर इस सेक्टर में Regulatory Stability हासिल की जा सकेगी।

Jeff ने National Portrait Gallery में मीडिया के साथ बातचीत में कहा

“Regulatory Stability वह चीज है, जिसे लेकर हमेशा भारत से उम्मीद की जाती रही है। नियम जो भी हों, अगर वह समय के साथ स्थिर हैं तो ऐसे में यह इस सेक्टर के लिए काफ़ी बेहतर होगा।”

उन्होंने आगे यह भी कहा;

“Amazon भारत में बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। भारत में हमारा व्यवसाय काफी बेहतर हुआ है और यह बहुत तेजी से बढ़ रहा है।” 

साथ ही उन्होंने Amazon के भारतीय संचालन का नेतृत्व करने वाले अमित अग्रवाल की तारीफ करते हुए कहा कि वह उनके साथ करीब 20 सालों तक काम कर चुकें हैं वह अमित उनके नजरिये से एक शानदार लीडर हैं, वो वाकई अच्छा प्रदर्शन कर रहें हैं। 

वहीँ 2020 के अमेरिकी चुनावों में White House की गद्दी की दौड़ में शामिल होने के सवाल को लेकर Jeff ने कहा,

“मेरे और फ़िलहाल और भी बहुत सी अन्य चीजें हैं, जो मैं करना चाहता हूँ, और मौजूदा समय में मैं उन्हीं पर ध्यान देना चाहता हूँ, फ़िलहाल राजनीति में उतरने का मेरा कोई इरादा नहीं है।”

इस बीच आपको बता दें Amazon अपनी भारतीय यूनिट में 4,400 करोड़ रुपये का निवेश करने जा रहा है, जिसमें फ़ूड और रिटेल बाज़ार भी शामिल हैं।

दरसल यह निवेश Amazon देश भर में अपनी इकाईयों को उस क्षेत्र के कड़े प्रतिद्वंदियों से टक्कर लेने के लिए तैयार करने हेतु कर रहा है। 

उदाहरण के लिए Flipkart के साथ ही आगे निकलने की होड़ में फंसकर Amazon 2018-19 में अब तक अपनी विभिन्न इकाईयों में क़रीब 7,000 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश कर चुका है।

साथ ही आपको याद दिला दें Jeff ने 2016 में भारतीय बाजार में $5 बिलियन का निवेश किया था।

इस बीच शुक्रवार को Microsoft के सह-संस्थापक बिल गेट्स ने $110 बिलियन की कुल संपत्ति के साथ Jeff को पीछे छोड़ दुबारा दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गये हैं।

हालाँकि Amazon और Flipkart को टक्कर देने के लिए अब बाज़ार में और भी कई प्रतिद्वंद्वी उतार चुकें हैं, जो इन शीर्ष कंपनियों को चुनौती देने के लिए प्रचार से लेकर तकनीक तक में पानी की तरह पैसे बहा रहें हैं और इसके जरिये वह भारतीय ई-कॉमर्स बाजार में अपनी स्थिति को मजबूत करने का भी प्रयास कर रहें हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.