देश में Apple के मोबाइल फ़ोनों का उनकी क़ीमतों की वजह से इंटरनेट पर कितना भी मजाक क्यों न बना लिया जाए लेकिन कंपनी ने कभी भी अपने फ़ोनों की कीमतों को तुरंत ही कम करने को लेकर कोई हड़बड़ी नहीं दिखाई।

और शायद यही एक वजह है कि देश में Apple देखते ही देखते एक फ़ोन से ज्यादा ‘एक स्टेटस’ का प्रतीक बनता गया और अब यह अधिकारिक तौर पर स्मार्टफोन सेगमेंट में देश का सबसे लोकप्रिय ‘प्रीमियम स्मार्टफोन ब्रांड’ बन चुका है।

सितंबर में समाप्त होने वाली तीसरी तिमाही की सामने आई रिपोर्ट से पता चलता है कि Apple को भारत के सबसे लोकप्रिय प्रीमियम स्मार्टफोन ब्रांड का दर्जा प्राप्त हुआ है।

आइये आपको इसका मलतब समझाते हैं, दरसल 35,000 रूपये से शुरू होने वाले स्मार्टफोन सेगमेंट में Apple बिक्री के लिहाज़ से 51.3% की बाजार हिस्सेदारी रखता है। जी हाँ! करीब आधे से भी थोड़ा अधिक।

इसके साथ ही आपको बता दें जहाँ Apple के iPhones बाजार की इस श्रेणी में पहले स्थान पर हैं वहीँ इसके बाद लिस्ट में Samsung और OnePlus ने जगह बनायीं है।

अंतर्राष्ट्रीय डेटा निगम के अनुसार,

“दिलचस्प यह है कि प्रीमियम सेगमेंट में, Apple के iPhone X, iPhone 8 और iPhone 7 (128GB) के साथ ही इसके पुराने मॉडलों पर किफायती ऑफर्स और कीमत में गिरावट के चलते 2019 की तीसरी तिमाही में इसकी बाज़ार हिस्सेदारी बढ़कर 51.3% हो सकी है।”

साथ ही नए लॉन्च किए गए iPhone 11 / Pro भी इस वर्ष की दूसरी तिमाही में Apple के लिए 41.2% की बाजार हिस्सेदारी बनाने में सबसे अधिक बिकने वाला प्रीमियम स्मार्टफोन साबित हुआ।

और तीसरी तिमाही में भी Apple को इस प्रीमियम स्मार्टफोन श्रेणी में आगे रखने के लिए iPhone 11 ने काफी अहम रोल निभाया।

IDC India की क्लाइंट डिवाइसेज, एसोसिएट रिसर्च मैनेजर, उपासना जोशी के अनुसार Apple की इस बढ़त का कारण काफी हद तक इसके $750 – $850 के बीच के सेगमेंट के प्रोडक्ट रहे, जिनकों भारत के जागरूक उपभोक्ताओं द्वारा काफी अपनाया गया।

लेकिन एक और खास चीज़ जो देखने को मिली कि Apple इस बार भी $1000 की कीमत वाले सेगमेंट में अधिक हिस्सेदारी बटोरने को लेकर संघर्ष करती नज़र आई।

IANS को दिए एक बयान में जोशी ने कहा,

“इस बार की रिपोर्ट को ध्यान में रखते हुए, Apple को ऐसी बढ़त को और आगे ले जाने के मकसद से $700 कीमत तक के उत्पादों पर और ध्यान देना चाहिए। साथ ही Apple को भारत में त्यौहारों के दौरान अपनी विज्ञापन और ऑफर्स को लेकर भी और ध्यान देने की जरूरत है।”

आपको बता दें कि Apple के iPhone शिपमेंट में भी तीसरी तिमाही में चौंकाने वाली 19% की बढ़ोतरी हुई है।

इन रिपोर्ट्स के चलते IDC India में ग्राहक उपकरण और आईपीडीएस अनुसंधान निदेशक, नवकेन्द्र सिंह ने कहा,

“हमें भरोसा है कि स्मार्टफोन बाजार में इस साल सिर्फ़ Mid-to-High सेगमेंट सिंगल डिजिट की YoY वृद्धि देखने को मिलेगी। इसके साथ ही इससे साफ़ जाहिर होता है कि उपभोक्ताओं का भी रवैया अब काफ़ी तेजी से बदल रहा है, और 2019 की तीसरी तिमाही इसका सबूत है और इस बार के रिकॉर्ड के साथ ही हमारे अपने चैनल स्टॉक का स्तर भी बढ़ा है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *