indian-spacetech-startup-pixxel-space

SpaceX ने आज इतिहास रचते हुए अपने पहले प्रोडक्शन बैच के Starlink के सैटलाइटों को सफलतापूर्वक लॉन्च किया।

आपको बता दें इसमें 60 छोटे सैटलाइटोंको उनके लक्ष्य ऑर्बिट में Falcon 9 रॉकेट पर भेजा गया है। ये 60 नए सैटलाइट मई में लॉन्च किए गए 60 अन्य की तरह ही रहे।

हालाँकि पिछली मई को लांच किये गये ये सैटलाइट और पिछले साल ही लांच किये गये दो अन्य सैटलाइट जहाँ सिर्फ़ टेस्टिंग के लिहाज से लॉन्च किये गये थे, वहीँ यह नया लांच किया गया बैच उपभोक्ताओं को इंटरनेट सेवा प्रदान करने के लिहाज़ से तैयार किया गया है।

आपको बता दें यह लॉन्च फ्लोरिडा के केप कैनावेरल में हुआ था, और Falcon 9 रॉकेट में एक बूस्टर स्टेज भी शामिल था और इस रॉकेट को एक या दो नहीं तीन बार पहले ही लॉन्च किया जा चुका था। और यह इसका चौथा उपयोग है, जो SpaceX के लिए भी एक रिकॉर्ड है।

दिलचस्प यह है कि SpaceX ने अटलांटिक महासागर में अपने “Of Course I Still Love You” नामक समुद्र में चलने वाले ड्रोन जहाज के जरिये नियंत्रित लैंडिंग के माध्यम से लांच में इस्तेमाल बूस्टर को वापस भी बरामद कर लिया। 

इसका दिलचस्प पहलु यह भी है कि हो सकता है इस बूस्टर को दूबारा इस्तेमाल में लाया जा सके। आपको बता दें इनको ऐसे 10 उड़ानों में उपयोग के लिहाज़ से डिज़ाइन किया गया है।

हालाँकि यह इस लॉन्च के जरिये बनाया गया एकमात्र रिकॉर्ड नहीं है, और सबसे बड़ी बात यह है कि SpaceX ने इस लॉन्च में पहली बार (किसी भी रॉकेट कंपनी के लिए) पहले ही इस्तेमाल फेयरिंग का इस्तेमाल किया गया। यह फेयरिंग अप्रैल में हुए Falcon Heavy Arabsat-6A मिशन के दौरान उपयोग हुई थी।

आपको बता दें Elon Musk के मुताबिक, इस री-फ्लाइंग से SpaceX को प्रति लॉन्च $6 मिलियन की बचत करने में मदद मिलती है।

आपको बता दें Starlink के लिए SpaceX अपने ब्रॉडबैंड-बीमिंग कनेक्टिविटी नेटवर्क के प्रसार के लिए ऐसे हजारों सैटलाइट लॉन्च करने की योजना बना रहा है।

इसक लक्ष्य असल में एक ऐसा वैश्विक तारामंडल संचालित करना है जो ऑर्बिटल सैटलाइटों के माध्यम से एक दूसरे के जरिये कनेक्टिविटी प्रदान कर सके।

आपको बता दें Elon Musk ने इस साल की शुरुआत में पहली बार एक Starlink द्वारा प्रदान किए गए कनेक्शन का उपयोग करते हुए ट्वीट किया था।

दरसल कंपनी का लक्ष्य अमेरिका और कनाडा में ग्राहकों के लिए इनके जरिये इंटरनेट सेवाओं को शुरू करने का है।

इसके लिए कंपनी ने एक के बाद एक Starlink सैटलाइट के लांच की योजना बना रही है ताकि अपनी सेवाओं का ग्लोबल तौर पर प्रसार कर सके। इस बीच आपको बता दें कंपनी ऐसे ही 24 और लॉन्च की योजना बनाये हुए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.