भारत के एंजेल इंवेस्टर्स के जाने माने ग्रुप, Indian Angel Network (IAN) ने अपने स्व-प्रबंधित IAN Fund के क्लोज़र की घोषणा कर दी है। आपको बता दें क्लोजर से पहले इस फंड का मूल्य 375 करोड़ रूपये रहा।

कई संस्थागत निवेशकों ने इसमें महत्वपूर्ण पूंजी निवेश किया है, जिनमें IIFL Holdings, Yes Bank, Max India, Gray Matters Capital और Hyundai जैसे बड़े नाम शामिल हैं। इसके साथ ही भारत के SIDBI Fund ने भी इसमें अपना योगदान दिया है।

साथ ही कई लोगों ने व्यक्तिगत क्षमता के आधार पर भी इस फंड में योगदान किया है, जिनमें कृष गोपालकृष्णन, सुनील मुंजाल, राजन आनंदन, कंवाल रेखी, विक्रम गांधी और जेरी राव शामिल रहे ।

इस IAN Fund का उद्देश्य 50 लाख रूपये से लेकर 50 करोड़ रूपये तक के व्यापक टिकट साइज़ के साथ निवेश करने का है। साथ ही फंड का उद्देश्य निवेश प्राप्त करने वाले उद्यमियों को पूंजी के साथ ही साथ रणनीतिक सलाह और बाजार में व्यापक पहुंच प्रदान करने का भी है।

वित्तीय मैगज़ीन Livemint को दिए एक बयान में, IAN के संस्थापक सदस्य पद्मजा रूपारेल ने कहा,

“एक स्टार्टअप के लिए फंडिंग में देरी का मतलब फडिंग न मिलने के बराबर होता है। हमने महसूस किया कि शुरुआती दौर में फंडिंग प्राप्त करने के बाद भी बहुत सारे स्टार्टअप्स को बिज़नेस को बढ़ाने और आगे की पूंजी जुटाने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है, जो कहीं न कहीं उनके लिए एंजेल फंडिंग में एक बड़े अंतराल का कारण बन जाता है।”

“IAN Fund के जरिये हमारा मसकद स्टार्टअप्स को मार्गदर्शन और शुरुआत दौर का निवेश देने का है ताकि वह एक टीम बनाकर बड़े पैमाने पर काम कर सकें, और साथ ही हम सुनिश्चित करेंगें की वे लगातार बढ़त बनाते चलें”

दरसल यह IAN का दूसरा ऐसा फंड है। इससे पहले इस एंजेल नेटवर्क ने 2017 में अपने पहले फंड के तौर पर लगभग 175 करोड़ रूपये के फंड का निर्माण किया था, जिसके जरिये अब तक 40 स्टार्टअप्स में निवेश किया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.